आगजनी से दो सिलेंडर में जोर का धमाका, 22 परिवार सड़क पर आ गया

Bemetara, Chhattisgarh, India
आगजनी से दो सिलेंडर में जोर का धमाका, 22 परिवार सड़क पर आ गया

ग्राम झाल में सर्विस लाइन में शार्ट सर्किट की वजह से निकली चिंगारी से फैली आग में 2 मकान, 12 पैरावट, अनाज और झोले में रखा 3 लाख रुपए नगद जलकर स्वाहा हो गया।

बेमेतरा. गर्मी के दिनों में छोटी सी चिंगारी भी दावानल का रूप लेने लगी है। जिला मुख्यालय से 10 किमी दूर स्थित ग्राम झाल में किसान के खलिहान के ऊपर से होकर गुजर रहे बिजली के सर्विस लाइन में शार्ट सर्किट की वजह से निकली चिंगारी से फैली आग में 2 मकान, 12 पैरावट, अनाज और झोले में रखा 3 लाख रुपए नगद जलकर स्वाहा हो गया। गांव के बड़े हिस्से में लगी आग को बुझाने के लिए शाम तक बेमेतरा का दमकल जुटा रहा।

दोपहर एक बजे रामजी यादव के खलिहान में आग
गुरुवार दोपहर करीब एक बजे रामजी यादव के खलिहान के ऊपर से गुजर रहे सर्विस लाइन में शार्ट सर्किट होने की वजह से निकली चिंगारी नीचे रखे 67 एकड़ के पैरावट को देखते-देखते दावानल की तरफ फैल गई। पैरावट के साथ ही आसपास के पेड़ भी चपेट में आ गए। आग ने बढ़ते हुए राम जी यादव के घर के एक हिस्से को अपनी चपेट में ले लिया, जहां कमरे में अनाज, घर बनाने के लिए रखे तीन लाख नगद, कपड़ा, पलंग व अन्य सामान जलकर खाक हो गए।

घर पर अकेली थी बुजुर्ग मां
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, राम जी के यहां जब आग लगी, तब घर पर उसकी 65 वर्षीय मां जनक बाई यादव अकेली थी। आग लगने के बाद चारों तरफ से उठती लपटों को देख जान बचाने के लिए भागी और बाहर निकल लोगों से आग बुझाने के लिए मदद मांगी। स्थिति को देख गांव के बच्चों से लेकर बुजुर्गों ने अपने-अपने स्तर पर आग बुझाने के लिए प्रयास किया। आगजनी की सूचना पर दोपहर करीबन तीन बजे बेमेतरा की दमकल टीम पहुंची और आग पर काबू का प्रयास शुरू किया।

जानकारी होने पर दौड़े
प्रभावित राम जी यादव ने बताया कि उसके परिवार के ही चैतु, दयाराम, झगलु, कुमारू का पैरा रखा हुआ था। घटना के वक्त वह घर पर नहीं था। करीब ही घर बना रहा है, वहां मौजूद था। आग लगने की सूचना मिलते ही वह और परिवार वाले दौड़ते-भागते घर पहुंचे। तब तक घर के एक हिस्सा जल चुका था। आग में मकान बनाने के लिए थैले में रखा तीन लाख रुपए भी अनाज व अन्य सामान के साथ जलकर खाक हो गया।

दूसरे घर को भी लिया चपेट में
गांव में सिगपुर मार्ग के किनारे हुए आगजनी के समय पहले पहुंचने वालों ने आग के गोलों को उड़ते हुए देखा, जब तक वे समझ पाते सड़क के एक तरफ लगी आग दूसरे तरफ स्थित किशन वर्मा के घर के एक हिस्से और पैरावट तक पहुंचकर उसे खाक कर दिया। आगजनी में घर में रखी लकड़ी व कंडे भी स्वाहा हो गए। इसके बाद आग किशन वर्मा के घर के करीब स्थित् भरत वर्मा, ठन्डु वर्मा के पैरावट तक पहुंच गई, जिसे लोग बुझाने का प्रयास करते रहे। आग बुझाने के लिए लोग नाली के पानी का सहारा ले रहे थे।

दाढ़ी थाना क्षेत्र में भी लगी आग
दाढ़ी थाना क्षेत्र के ग्राम बैहरसरी में भी गुरुवार को पैरावट में आग लग गई। आगजनी में करीबन 40 एकड़ का पैरावट जलकर खाक हो गया। आग पर बड़ी मशक्कत के बाद काबू पाया गया। बैहरसरी में विश्वराज सिंह के खलिहाल में रखे पैरावट में लगी आग पर ग्रामीणों की मदद से करीबन चार घंटे की मशक्कत के बाद काबू पाया गया।

डामर प्लांट का हिस्सा जला
दिन की तीसरी आगजनी की घटना में ग्राम पिपरभट्ठा में खेत किनारे फसल अवशेष जलाने के कारण करीब के डामर प्लांट के किनारे का हिस्सा जल गया। आग पर बेमेतरा दमकल की टीम ने लोगों की मदद से काबू पाया। गौरतलब है कि नगर व जिले में लगातार आगजनी की घटनाओं का बीते महीने से क्रम जारी है।

मौके पर पहुंची टीम
बेमेतरा तहसीलदार प्रवीण तिवारी ने बताया कि झाल के लिए नगर पालिका बेमेतरा व नगर पंचायत नवागढ़ के दमकल वाहन को निर्देशित किया गया था। नवागढ़ का वाहन दीगर स्थान पर था, इसलिए देर हुई है। मौके पर प्रशासन की टीम पहुंची है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned