अभिलाष को युवा, लता को महिला मोर्चा की की कमान

Bhopal, Madhya Pradesh, India
अभिलाष को युवा, लता को महिला मोर्चा की की कमान

संघ की पसंद के चलते 63 साल की लता ऐलकर को महिला मोर्चा की और अभिलाष पाण्डेय को युवा मोर्चे की जिम्मेदारी सौंपी है। गजेंद्र पटेल को अजजा मोर्चा का दोबारा अध्यक्ष बनाया गया है।

भोपाल. भाजपा ने बुधवार को तीन मोर्चे के प्रदेशाध्यक्षों के नाम घोषित कर दिए। प्रदेशाध्यक्षों के नाम में संघ और बड़े नेताओं का दबाव हावी रहा। संघ की पसंद के चलते 63 साल की लता ऐलकर को महिला मोर्चा की और अभिलाष पाण्डेय को युवा मोर्चे की जिम्मेदारी सौंपी है। गजेंद्र पटेल को अजजा मोर्चा का दोबारा अध्यक्ष बनाया गया है। प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने दिल्ली रवानगी से पहले तीनों नामों को हरी झंडी दी।


लता का नाम चौंकाने वाला
महिला मोर्चा के लिए लता ऐलकर का नाम चौंकाने वाला रहा। वे पद की दौड़ में नहीं थी। संघ के दबाव और सुहास की पसंद के चलते 60 पार होने के बावजूद उन्हें जिम्मेदारी दी गई। वे बालाघाट की रहने वाली हैं और मोर्चा में राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रह चुकी हैं। लता ने पत्रिका से चर्चा में कहा कि नवम्बर में कार्यकारिणी गठित की जाएगी। महिलाओं को जागरूक करना, सरकार की योजनाओं का लाभ दिलाना उनकी प्राथमिकता होगी। इधर, अभिलाष पाण्डेय का कहना है कि संस्कारित व समर्पित कार्यकताओं को आगे लाना व युवाओं का विकास उनकी प्राथमिकता में शामिल है। वहीं युवा मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष के लिए जबलपुर के अभिलाष का नाम शुरू से दौड़ में था। 

उनकी ताजपोशी रोकने के लिए कई नेता सक्रिय हुए, लेकिन आखिरी वक्त पर बड़े नेताओं की रजामंदी हो गई। पाण्डेय के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा सहमत थे। संघ ने सुहास को राजी करवाया। वे वर्तमान में मोर्चा में महामंत्री थे। पार्टी ने लता की ताजपोशी के पहले ही पूर्व अध्यक्ष लता वानखेड़े को महिला आयोग भेजकर लाल बत्ती दे दी थी। अब अभिलाष के आने के बाद अमरदीप मौर्य को संगठन में दूसरी जिम्मेदारी देना तय है।

MUST READ: एक आदेश के कारण 24 घंटे में हो गया इस अफसर का ट्रांसफर

तीन मोर्चे बाकी
पार्टी में तीन मोर्चा प्रदेशाध्यक्ष बाकी है। अभी किसान मोर्चा, पिछड़ा वर्ग मोर्चा और अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेशाध्यक्षों के नाम का ऐलान बाकी है। इनके नामों की घोषणा कई नामों के दबाव के चलते नंदकुमार ने रोक दी है।    

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned