कॉमेडियन भारती बोलीं- मंगेतर बोलता है रणवीर की पप्पी ले, अक्षय की गोद मे बैठ जा

Bhopal, Madhya Pradesh, India
 कॉमेडियन भारती बोलीं- मंगेतर बोलता है रणवीर की पप्पी ले, अक्षय की गोद मे बैठ जा

हर्ष मेरे लाइफ पार्टनर बनने वाले हैं पर दूसरी सच्चाई तो यह है कि मैं जो भी कॉमेडी या चुहलबाजी करती हूं, उसका हरेक शब्द हर्ष का लिखा होता है।

भोपाल। हर्ष मेरे लाइफ पार्टनर बनने वाले हैं पर दूसरी सच्चाई तो यह है कि मैं जो भी कॉमेडी या चुहलबाजी करती हूं, उसका हरके शब्द हर्ष का लिखा होता है। यह कहना है नच बलिए-८ फेम और कॉमेडियन भारतीय सिंह का। उन्होंने पत्रिका संवाददाता सचिन गुप्ता से शो और आम जिंदगी से जुड़ी बातें शेयर की। 

इतना मस्ती-मजाक कैसे कर पाती है?
डांस कॉम्पटीशन में कपल के रूप में स्टेज पर आने की तैयारी कर रही भारती ने कहा कि मैं स्टेज पर जो भी मस्ती-मजाक करती हूं उसका निर्देशनक पर्दे के पीछे बैठे हर्ष यानी मंगेतर करते हैं। वे ही शो के दौरान कहते हैं ...जा रणवीर कपूर की पप्पी ले ले,... अक्षय कुमार की गोद में बैठ जा... शाहरुख के गले लग जा।


हर्ष कैसे करते हैं मदद?
मेरे मंगेतर हर्ष ने कभी कैमरा फेस नहीं किया है, लेकिन उन्हें चीजों की बेहतर परख है। जब से मैंने शो करना शुरू किया है, तभी से मेरे लिए डायलॉग लिख रहे हैं। वो ही तय करते हैं कि मुझे कब किससे क्या कहना है। इस शो में वो मेरे पार्टनर बने हैं तो उन्हें कैमरा फेस करने में झिझक होती है, पर मैं उन्हें यहां सपोर्ट कर रही हूं। हर्ष अन्य कपल की तरह कमतर नहीं लगना चाहिए, इसकी तैयारी कर रहे हैं।

आपकी कैमिस्ट्री कैसे जमी?
हर्ष शुरुआत से मेरे राइटर रहे हैं। मैं पंजाबी हूं और हर्ष भले ही गुजराती हों पर उनका खानपान हमारे जैसा है। उन्हें तीखा और तला-भुना खाना पसंद है, मीठा पसंद नहीं। वे कॉमेडी को पर्दे पर जीवंत करने वाले कलमकार हैं। उन्हें मेरी हर बात का पता है। वे मुझे और मैं उन्हें बेहर आदर के साथ पसंद करते हैं।


आपकी सफलता के पीछे कौन है?
मेरी सफलता के पीछे एक नहीं पूरी टीम है। खासकर मेरे मंगेतर हर्ष से लेकर मुझे पर्दे पर लाने वाली टीम है। मैं अब तक इसलिए कामयाब हो पाई हूं क्योंकि हर्ष जैसा इंसान मौजूद है।

आपके बीच जब सालसा होगा तो कौन सा होगा, कौन किसे गोद उठाएगा?
निश्चित रूप से शो के दौरान ऐसा नजारा जरूर आएगा। हर्ष मुझे उठाने के लिए वेट लिफ्टिंग समेत अन्य तैयारियां कर रहे हैं। ताकि और जोडिय़ों की तरह हमारा सालसा जब आएगा तो हर्ष मुझे गोद में उठाकर घुसा सके। 

जिंदगी का सबसे मुश्किल लम्हा जब आपको शो करने में कठिनाई आई हो?
एक बार ऐसा ही वक्त आया जब लाफ्टर चैलेंज में मेरा मुंबई में शो था, मेरी मां की अचानक तबीयत बिगड़ गई और उन्हें आईसीयू में एडमिट कराना पड़ा। मैं अकेली थी और मां अस्पताल में। उन्हें छोड़कर मैं शो करने गई। उस दिन मेर परफॉम्र्स अन्य शो के मुकाबले बेस्ट था। शो के बाद लौटी तो मां भी आईसीयू से बाहर आ चुकी थीं।


पर्दे के पीछे की लाइफ कैसे चलती है?
पर्दे के पीछे हर्ष ज्यादा हंसमुख हैं। वे बहुत मस्ती करते हैं, शायद यही बात मुझे बेहद पसंद है। जब मैं नाराज होती हूं, वे मुझे मना लेते हैं। मुझे शॉपिंग पर ले जाते हैं। हालांकि शॉपिंग में ज्यादातर खरीदारी हर्ष अपने लिए ही करते हैं।

पर्दे पर लल्ली दोबारा लौटेगी?
लल्ली तो हमेशा मेरा प्रमुख किरदार रही है। बच्चे की आवाज निकालना मेरी यूएसपी है। हां, इसके रूप बदलते रहते हैं। अब मैं भी ३० पार हो गई हूं तो जाहिर है मेरे मन का बच्चा भी लल्ली से आगे निकलकर चिंटू में समा गया है। मेरे कॉमेडी में बच्चा हमेशा आता रहेगा। 

नच बलिए में डांस सीरियस करेंगे या कॉमेडी स्टाइल में?
मैं कॉमेडी के साथ ही डांस शो में आ रही हूं। कभी जजेस के साथ, कभी ऑडियंस के साथ कुछ स्टेप्स करूंगी। वो एंटरटेनमेंट के लिए होंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned