BHOPAL: दिसम्बर में नहीं रुकेंगी ये ट्रेनें, सफर से पहले जरूर देखें LIST

Bhopal, Madhya Pradesh, India
BHOPAL: दिसम्बर में नहीं रुकेंगी ये ट्रेनें, सफर से पहले जरूर देखें LIST

एक दिसंबर से 39 दिनों तक भोपाल स्टेशन पर कई ट्रेने नहीं रुकेंगी। भोपाल रेलवे स्टेशन से यात्रा करने वाले लोगों को अब हबीबगंज स्टेशन से ट्रेन में बैठना पड़ेगा। इन ट्रेनों में दिल्ली और लखनऊ जाने वाली गाड़ियां भी शामिल हैं।


भोपाल। एक दिसंबर से 39 दिनों तक भोपाल स्टेशन पर कई ट्रेने नहीं रुकेंगी। भोपाल रेलवे स्टेशन से यात्रा करने वाले लोगों को अब हबीबगंज स्टेशन से ट्रेन में बैठना पड़ेगा। इन ट्रेनों में दिल्ली और लखनऊ जाने वाली गाड़ियां भी शामिल हैं।
प्राप्त जानकारी के मुताबिक भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म एक का नवीनीकरण होना है। इसे नये साल में नया रूप दिया जाएगा। इस कारण आने वाले करीब 39 दिनों तक भोपाल स्टेशन पर कई ट्रेनें नहीं रुकेंगी। रेलवे प्रशासन एक दिसंबर से 9 जनवरी तक यह काम करेगा।

इन ट्रेनों पर पड़ेगा असर
लश्कर एक्सप्रेस, पंजाब मेल, सचखंड एक्सप्रेस, गोंडवाना एक्सप्रेस, जीटी एक्सप्रेस, झेलम एक्सप्रेस, अमृतसर एक्सप्रेस, स्वर्ण जयंती एक्सप्रेस, समता एक्सप्रेस, केरला एक्सप्रेस, यशवंतपुर एक्सप्रेस, अंडमान एक्सप्रेस, अंडमान एक्सप्रेस, यशवंतपुर एक्सप्रेस, कर्नाटक एक्सप्रेस, बलसाड़ एक्सप्रेस, कोल्हापुर एक्सप्रेस, छिंदवाड़ा एक्सप्रेस, श्रीधाम एक्सप्रेस, कामायनी एक्सप्रेस, पुणे एक्सप्रेस, दक्षिण एक्सप्रेस, नादेड़ एक्सप्रेस, कुशीनगर एक्सप्रेस, पुणे एक्सप्रेस, छत्तीसगढ़ एक्सप्रेस, निजामुद्दीन मद्रास एक्सप्रेस, त्रिवेंद्रम एक्सप्रेस, सुल्तानपुर एक्सप्रेस आदि ट्रेनें प्रभावित रहेंगी।





देश के गंदे स्टेशनों में हो गया था शामिल
भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर 1 की तस्वीर ही बदल जाएगी। कुछ माह पहले आई एक रिपोर्ट में भोपाल के इस पुराने स्टेशन को देश के सबसे गंदे रेलवे स्टेशनों में बताया गया था। इस पर वॉशेबल एप्रन बनने के बाद यह प्लेटफार्म ज्यादा साफ नजर आएगा।

शताब्दी समेत कई ट्रेनों पर पड़ेगा असर
वॉशेबल एप्रन बनने के कारण आने वाले 39 दिनों तक भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-1 पर कोई ट्रेन नहीं रोकी जाएगी। इससे शताब्दी समेत तमाम प्रमुख ट्रेनों को हबीबगंज स्टेशन पर रोका जाएगा। दूसरी ओर एक नंबर प्लेटफॉर्म बंद होने के कारण अन्य प्लेटफॉर्म्स पर दबाव बढ़ जाएगा। ऐसी स्थिति में प्लेटफार्म एक पर आने वाली ट्रेनों को सीधे हबीबगंज पहुंचाया जाएगा।


यह है वॉशेबल एप्रन
इसके तहत पटरी के नीचे सीमेंटेड बेस बनाया जाता है। इससे पटरियों पर गिरने वाली गंदगी को साफ करने में आसानी होती है। भोपाल स्टेशन के 1 एवं 3 नंबर के वाशेबल एप्रन बेहद खस्ता हो गए हैं। चूंकि प्लेटफॉर्म नंबर एक कई महत्वपूर्ण ट्रेनों का स्टॉपेज है, लिहाजा पहले चरण में इसे ठीक करने के आदेश दिए गए थे।


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned