रेत माफिया के खिलाफ हुई अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई, 100 डंपर जब्त

Bhopal, Madhya Pradesh, India
  रेत माफिया के खिलाफ हुई अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई, 100 डंपर जब्त

एडीएम जीपी माली व पुलिस अफसरों ने सावरकर सेतु पर करीब 35 रेत के डंपरों को पकड़ा। यही हाल अन्य एंट्री प्वाइंट्स का भी रहा। 

भोपाल। मध्यप्रदेश में नर्मदा और उसकी सहायक नदियों को खोखला कर रहे रेत माफिया के खिलाफ गुरुवार रात राजधानी भोपाल में अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई को पुलिस ने अंजाम दिया। पुलिस ने रात करीब 11 बजे होशंगाबाद रोड स्थित सावरकर सेतु पर डेरा जमा लिया। 10 थानों के टीआई, रेपिड एक्शन फोर्स के 100 जवान, पुलिस के 100 जवान, तहसीलदार, एसडीएम, जिला पंचायत सीईओ, एडीएम जीपी माली समेत भारी प्रशासनिक अमला मौके पर मौजूद रहा। इस कार्रवाई ने न केवल कई सवाल खड़े किए, बल्कि जिन धाराओं में 100 ट्रक जब्त किए गए, उन्हें लेकर पुलिस भी घेरे में आ गई है। आइए जानते हैं इस पूरी कार्रवाई के बारे में...





ऐसे शुरू हुई कार्रवाई
एडीएम जीपी माली व पुलिस अफसरों ने सावरकर सेतु पर करीब 35 रेत के डंपरों को पकड़ा। यही हाल अन्य एंट्री प्वाइंट्स का भी रहा। देर रात 1.30 बजे तक करीब 100 डंपरों को पकड़ लिया था।  इनमें से आधे बिना रॉयल्टी रसीद के थे।  और आधे से ज्यादा ओवरलोड थे। जब्त किए गए ट्रकों को लाल परेड ग्राउंड पर खड़े करा दिए हैं।

 sand mining

 sand mining



10 थानों की पुलिस व पूरा प्रशासन जुटा
देर रात कार्रवाई में एडीएम जीपी माली, सीईओ जिला पंचायत आशीष भार्गव, सभी वृत्तों के एसडीएम, तहसीलदार, खनिज इंस्पेक्टर, 10 थानों के टीआई और रेपिड एक्शन फोर्स के 100 जवान अवैध खनन की जांच में जुट गए। 




इनका कहना है...
अभी हम लोगों ने करीब 100 डंपर पकड़ लिए हैं। ज्यादातर ओवरलोड हैं और आधे बिना रॉयल्टी के हैं। इनके खिलाफ अवैध परिवहन का केस बनेगा 
- जीपी माली, एडीएम




उठ रहे सवाल
- हर रात करीब 350 से ज्यादा डंपर एंट्री करते थे, अचानक कैसे घट गई संख्या?
- होशंगाबाद और बुधनी के रसूखदारों के डंपर आज सड़क पर नहीं दिखे?

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned