अस्पताल में अचानक भड़की आग, कांच तोड़कर बाहर निकाले गए मरीज

Brajendra Sarvariya

Publish: Dec, 01 2016 09:47:00 (IST)

bhopal
अस्पताल में अचानक भड़की आग, कांच तोड़कर बाहर निकाले गए मरीज

अशोका गार्डन इलाके में बुधवार सुबह निजी अस्पताल में लगी भीषण आग से अफरा-तफरी मच गई। 

भोपाल। अशोका गार्डन इलाके में बुधवार सुबह निजी अस्पताल में लगी भीषण आग से अफरा-तफरी मच गई। अस्पताल के ग्राउंड फ्लोर में लगी आग से बाहर निकलने के रास्ते बंद हो गए। अस्पताल में भर्ती महिला मरीज को फस्र्ट फ्लोर की खिड़की का कांच तोड़कर निकाला गया। करीब आधे घंटे तक अस्पताल में तीन जिंदगी फंसी रहीं। थोड़ी देर बाद पहुंची दो दमकलों ने आग पर काबू पाया। आग शार्ट-सर्किट की वजह से लगी थी।


प्रभात चौराहे के पास डॉ. सुधीन्दु चक्रवर्ती का आयुष हास्पिटल एंड रिसर्च सेंटर है। बुधवार सुबह स्टाफ नर्स शबीना ने ग्राउंड फ्लोर से धुआं उठता देखा। वह कुछ समझ पातीं इससे पहले आग की लपटें उठने लगीं।  उन्होंने तुरंत ही फस्र्ट फ्लोर में भर्ती महिला मरीज सीमा गुप्ता को गोद में उठाकर बाहर निकालने के लिए आवाज लगाई। स्टाफ नर्स की चीख सुनकर थोड़ी देर बाद पहुंचे लोगों ने  सीमा गुप्ता को कांच तोड़कर निकाला। अस्पताल में नाइट ड्यूटी में मौजूद स्टॉफ नर्स अन्नू, शबीना के अलावा मरीज सीमा गुप्ता थी। हालांकि, आग से कोई हताहत नहीं हुआ।  

नहीं थे सेफ्टी उपकरण 
अस्पताल रहवासी इलाके में है। बावजूद अस्पताल में सुरक्षा के उपाय नहीं थे। रात में कोई गार्ड तक अस्पताल में नहीं तैनात था। इतना ही नहीं महिला कर्मचारियों के अलावा कोई पुरुष अस्पताल में 
नहीं रहता। यही वजह रही कि आग लगने के बाद महिला कर्मचारी डर के चलते मेन गेट नहीं खोल सकीं। 


मरीज सीमा की जुबानी दहशत के वह आधे घंटे 
सप्ताहभर पहले ही अस्पताल में भर्ती हुई थी।  बुधवार सुबह बेड पर पड़ी थी। तभी नर्स शबीना-अन्नू की  चीख सुनीं। तबियत नासाज होने की वजह से मैं नहीं उठ सकी। शबीना ने हांफते हुए बताया कि जल्दी भागो अस्पताल में भीषण आग लग गई है। मैं उठ नहीं पा रही थीं। ऐसे में शबीना ने मुझे अपने गोद में उठाकर  खिड़की के पास लेकर पहुंची। लेकिन बाहर निकालने की वह हिम्मत नहीं कर सकीं। ऐसे में थोड़ी देर बाद लोगों की मदद से उन्हें फस्र्ट फ्लोर के जीने से बाहर निकाला गया। अस्पताल में धुंआ भरने से करीब तीन घंटे तक सीमा बाहर बैठीं रहीं। घटना के करीब 20 मिनट पहले ही सीमा के पति राधेश्याम अस्पताल से अपने घर गए थे।  

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned