ऐसे बनी लता मंगेशकर भारत की सबसे लोकप्रिय गायिका

Bhopal, Madhya Pradesh, India
ऐसे बनी लता मंगेशकर भारत की सबसे लोकप्रिय गायिका

भारत की सबसे ज्यादा सम्मानित और लोकप्रिय गायिका लता मंगेशकर का जन्म मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक मराठा परिवार में हुआ था।


भारत की सबसे ज्यादा सम्मानित और लोकप्रिय गायिका लता मंगेशकर(Lata Mangeshkar) का जन्म मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में एक मराठा परिवार में हुआ था। उनके पिता पंडित दीनानाथ मंगेशकर रंगमंच के कलाकार होने के साथ-साथ एक गायक भी थे।

महाराष्ट्र में हुई परवरिश
लता मंगेशकर के परिवार में उनके भाई हृदयनाथ मंगेशकर और बहनें उषा मंगेशकर, मीना मंगेशकर और आशा भोंसले हैं। लता मंगेशकर के साथ-साथ सभी भाई-बहनों ने भी संगीत को ही अपने करियर के तौर पर चुना। लता मंगेशकर की परवरिश महाराष्ट्र में हुई। पांच साल की उम्र से ही लता मंगेशकर अपने पिता के साथ रंगमंच में अभिनय करने लगी थी।

ऐसे रखा संगीत में कदम
लता मंगेशकर बचपन से ही गायिका बनना चाहती थीं। उन्होंने अपने करियर का पहला गाना वसंग जोगलेकर की फिल्म कीर्ती हसाल के लिये गाया था लेकिन क्योंकि उनके पिता नहीं चाहते थे कि वो फिल्मों के लिए गाये इसलिए उनके गाये हुए इस गाने को फिल्म से निकाल दिया गया था। ये वो वक्त था जब वसंत जोगलेकर ने उनकी प्रतिभा को पहचाना और वह उससे काफी प्रभावित भी हुए।

आर्थिक तंगी के कारण किया अभिनय
जब लता 13 साल की थीं तो उनके पिता की मृत्यु हो गई जिसके बाद उन्हें आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ा। ये लता मंगेशकर की जिंदगी का सबसे संघर्षपूर्ण समय था। इस आर्थिक तंगी को दूर करने के लिए ना चाहते हुए भी उन्हें हिन्दी और मराठी फिल्मों में काम करना पड़ा। अभिनेत्री के रूप में उनकी पहली फ़िल्म पाहिली मंगलागौर थी जो कि साल 1942 में रिलीज़ हुई।

फिर रखा गायकी में कदम
लता मंगेशकर ने वापस से साल 1947 में वसंत जोगलेकर की फ़िल्म से गाना शुरू किया। इस फिल्म के गानों से लता काफी चर्चा में भी आई जिसके बाद उन्हें गाने के कई और मौके भी मिले। लेकिन लता को पार्श्वगायिका के रूप में असली पहचान साल 1949 में फ़िल्म 'महल' के 'आयेगा आनेवाला' गीने से मिली। ये गीत गाना लता मंगेशकर की जिंदगी का वह मोड़ था जिसके बाद उन्होंने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा।

जिम्मेदारियों के कारण नहीं की शादी
लता मंगेशकर के पिता की मौत के बाद सभी भाई-बहनों की जिम्मेदारी उनपर आ गई जिसके कारण उन्होंने शादी नहीं की।

भारत रत्न से हो चुकी हैं सम्मानित
लता मंगेशकर को भारत रत्न से सम्मानित किया जा चुका है। इसके साथ ही उन्हें पद्म भूषण, दादा साहब फाल्के पुरस्कार, पद्म विभूषण के साथ-साथ कई अन्य पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned