पुलिस चौकी को कब्जामुक्त होने में लग गए 15 साल, अब खुश हैं सिपाही

Bhopal, Madhya Pradesh, India
पुलिस चौकी को कब्जामुक्त होने में लग गए 15 साल, अब खुश हैं सिपाही

सराय सिकंदरी पुलिस चौकी पर पिछले 15 साल से एक गुंडे का अवैध कब्जा था, जिसे बजरिया पुलिस ने अब जाकर हटवा दिया।


भोपाल। जिस पुलिस का खौफ गुंडों में होना चाहिए, वो पुलिस पिछले 15 साल से एक गुंडे के आतंक से खौफजदा थी। ये बात भले ही अजीब लगे, पर सच है। सराय सिकंदरी पुलिस चौकी पर पिछले 15 साल से एक गुंडे का अवैध कब्जा था, जिसे बजरिया पुलिस ने अब जाकर हटवा दिया। भोपाल रेलवे स्टेशन के ठीक सामने स्थित इस चौकी में पुलिस ने रंग-रोगन करवाकर स्टाफ बैठा दिया है।

MUST READ: PM और महिलाओं पर टिप्पणी के कारण गई गौर की कुर्सी!

बजरिया थाना प्रभारी डीपी सिंह ने बताया कि चौकी पर इलाके के बदमाश साजिद का कब्जा 15 साल से है। वह चौकी के सामने पांच ठेले लगवाकर रोजाना एक हजार रुपए किराया वसूलता है। चौकी के अंदर ठेले वालों का सामान रखवाता है। पुलिस ने तीन ठेले वालों पर कार्रवाई की तो उन्होंने साजिद का नाम उगला। अब जाकर चौकी खाली करवाई।

दो कमरे एक हॉॅल
चौकी का क्षेत्रफल काफी बड़ा है। उसमें दो कमरे और एक हाल है। करीब 30-35 लोगों के बैठने की व्यवस्था है। इसमें पहले बजरिया थाना लगता था। थाने का भवन दूसरी जगह बन गया तो यह बिल्डिंग खाली हो गई। बताया गया कि इसके बाद बजरिया थाने के पूर्व प्रभारियों ने साजिद से साठगांठ कर चौकी उसे दे दी। उसने चौकी पर लगा बोर्ड गायब कर दिया। चौकी के पास आए दिन यात्रियों के साथ अपराधिक घटनाएं होती हैं।

MUST READ: HOME MINISTER ही नहीं MP के कई मंत्री दे चुके बेतुके बयान

काफी साल से चौकी खाली पड़ी थी। भवन-जमीन औकाफे-शाही की है। पुलिस ने बिना कोई अनुमति के दोबारा कब्जा कर चौकी खोल दी है। इसकी शिकायत आईजी-डीआईजी से की गई है।
-आजम तिरमिजी, सचिव औकाफे-शाही

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned