AIDS DAY: 21-49 की उम्र के 71 फीसदी से लोग MP में एचआईवी पॉजिटिव

Bhopal, Madhya Pradesh, India
AIDS DAY: 21-49 की उम्र के 71 फीसदी से लोग MP में एचआईवी पॉजिटिव

वर्र्लड एड्स डे पर मध्यप्रदेश स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी की ओर से जारी रिपोर्ट के ये फैक्ट आपको भी हैरान कर देंगे...

भोपाला। जागरुकता के अभाव में एचआईवी एड्स से पीडि़तों की संख्या दुनियाभर में तेजी से बढ़ रही है। मध्यप्रदेश भी इस मामले में पीछे नहीं है। चौंकाने वाली बात यह है कि 71 फीसदी से ज्यादा लोग एचआईवी संक्रमण से जूझ रहे हैं। वर्र्लड एड्स डे पर मध्यप्रदेश स्टेट एड्स कंट्रोल सोसायटी की ओर से जारी रिपोर्ट के ये फैक्ट आपको भी हैरान कर देंगे...

* मध्यप्रदेश में 21 साल से 49 वर्ष की उम्र के 71 फीसदी से ज्यादा लोग एचआईवी पॉजिटिव हैं। ये वे लोग हैं जो एचआईवी संक्रमण के कारण बेहद चिंताजनक स्थिति से गुजर रहे हैं।
* वहीं 35 से 50 साल की उम्र के 48.43 फीसदी लोग एचआईवी संक्रमित हैं। 
* प्रदेश के 15-34 साल की उम्र के 44.76 फीसदी युवा एचआईवी पीडि़त हैं।
* हैरानी की बात यह भी है कि एचआईवी पीडि़त इन लोगों में 89 फीसदी से ज्यादा लोग असुरक्षित यौन संबंधों के कारण एचआईवी का शिकार हुए हैं। टेक्रोलॉजी के इस युग में भी लोग एड्स को लेकर जागरूक नहीं हैं।


* जबकि यौन संबंधों के अलावा अन्य किसी कारण से एचआईवी एड्स का शिकार होने वाले लोगों की संख्या न के बराबर है। 
* 7.25 फीसदी लोग ऐसे हैं, जिन्हें अपने माता-पिता के कारण यानी जन्म के समय ही एचआईवी संक्रमण था।


* 2.94 फीसदी एचआईवी पॉजिटिव मरीज ऐसे हैं जो संक्रमित सीरिंज के कारण एड्स का शिकार हुए हैं।
* हालांकि मध्यप्रदेश एड्स कंट्रोल सोसायटी के मुताबिक पिछले दो साल में अवेयरनेस बढ़ी है। सोसायटी के प्रयास रंग लाए हैं। इतनी बड़ी संख्या में यहां एचआईवी पॉजिटिव मरीज हैं। लेकिन 2014 के बाद से एड्स पीडि़तों की संख्या घटने भी लगी है।


* अकेले भोपाल में एचआईवी पॉजिटिव मरीजों की संख्या 4,767 यानी 1.13 फीसदी है। पिछले पांच साल के आंकड़ों पर नजर डालें तो 2012 में जहां .63 फीसदी लोग एचआईवी पॉजिटिव थे, वहीं 2013 में यह आंकड़ा .60 फीसदी पर आ गया। वर्ष 2014 में .58 फीसदी मरीज पॉजिटिव मिले, तो 2015 में .47 फीसदी। वहीं वर्तमान यानी वर्ष 2016 मेंं इनकी संख्या .45 फीसदी दर्ज की गई है।

अवेयरनेस एप लॉन्चिंग आज

एचआईवी एड्स के मरीजों की संख्या दुनियाभर में तेजी से बढ़ रही है। ऐसे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को अवेयर करने के उद्देश्य से एक मोबाइल एप लॉन्च किया जा रहा है। जो न केवल एड्स संबंधी तमाम जानकारियों के माध्यम से लोगों को अवेयर करेगा। वहीं इसका बड़ा लाभ एड्स पीडि़तों को मिलेगा। 


 आज से शुरू होने वाले इस ऐप के माध्यम से लोगों को एड्स संबंधी जानकारी, एड्स के लक्षण, इलाज और बचने के उपाय आदि कई महत्वपूर्ण बिंदु शामिल होंगे। ये ऐप खासतौर पर उन लोगों के लिए हेल्पफुल होगा जो अपने आस-पास के हेल्थ सेंटर पर अपने इलाज के लिए जाते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned