सीबीआई के पहुंचने से पहले पुलिस ने की एफआईआर

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Jan, 13 2017 01:11:00 (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
सीबीआई के पहुंचने से पहले पुलिस ने की एफआईआर

सेवा सहकारी समिति घुटकू में वर्ष 2012-13 व 2014-15 में किसानों के खातों से 7 करोड़ के गबन के मामले में 9 माह पहले शिकायत की गई थी।

बिलासपुर. सेवा सहकारी समिति घुटकू में वर्ष 2012-13 व 2014-15 में किसानों के खातों से 7 करोड़ के गबन के मामले में 9 माह पहले शिकायत की गई थी। पुलिस ने मामला पेंडिंग रखा था। हाईकोर्ट द्वारा सीबीआई जांच के आदेश के बाद कोनी पुलिस ने आनन फानन में 8 जनवरी को एफआईआर दर्ज की। बुधवार को पुलिस ने समिति के आरोपी अध्यक्ष,  दो प्रबंधक और एक खजांची को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वहीं गुरुवार को मामले की जांच करने सीबीआई भिलाई के दो इंस्पेक्टर कोनी थाना पहुंचे।

मामले से जुड़ी जानकारी लेने के बाद वे लौट गए। कोनी थानांतर्गत घुटकू सेवा सहकारी समिति में वर्ष 2012-13 और 2014-15 में किसानों के खाते से 7 करोड़ रुपए के गबन का मामला सामने आया था। सेवा सहकारी संस्थाएं के उप अधीक्षक डीसी बघेल ने मामले की शिकायत कोनी थाने में की थी। समिति के अध्यक्ष हरीलाल लोनिया, समिति प्रबंधक नंद कुमार यादव, गणेश राम लोनिया, खजांची परमेश्वर यादव,  नंद कुमार यादव कौशल प्रसाद यादव, सिंधू पिल्लै और राज किशोरी एक्का के खिलाफ कार्रवाई की मांग की गई थी।

लेकिन पुलिस ने कार्रवाई करना तो दूर जांच तक नहीं की थी। हाईकोर्ट ने मामले में दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए सीबीआई जांच के आदेश दिए। हाईकोर्ट के आदेश के बाद सीबीआई की टीम गुरुवार को बिलासपुर आने वाली थी। इसकी जानकारी मिलने पर पुलिस ने रविवार देर रात आरोपियों के खिलाफ आनन-फानन में धारा 406, 409 के तहत अपराध दर्ज किया था। बुधवार को पुलिस ने आरोपी नंदकुमार यादव, परमेश्वर यादव, हीरालाल  लोनिया और गणेश राम को गिरफ्तार करने के बाद कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया था।

सीबीआई को बताया कार्रवाई जारी है :
  गुरुवार को सीबीआई भिलाई के दो इंस्पेक्टर जांच करने कोनी थाने पहुंचे। सीबीआई ने कोनी पुलिस से जानकारी मांगी। तब पुलिस ने टीम को बताया कि मामले में एफआईआर दर्ज करचार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned