कॉलेज की छात्राएं उस वक्त रह गई दंग, जब प्रिंसिपल ने सुनाया यह फरमान

Bilaspur, Chhattisgarh, India
कॉलेज की छात्राएं उस वक्त रह गई दंग, जब प्रिंसिपल ने सुनाया यह फरमान

अरपापार सीपत रोड पर शासकीय माता शबरी नवीन कन्या कॉलेज की छात्राओं ने छात्रसंघ पदाधिकारियों के नेतृत्व में कक्षा का बहिस्कार कर कॉलेज प्रशासन के सामने जमकर नारेबाजी की...

बिलासपुर. शासकीय माता शबरी नवीन कन्या कॉलेज की छात्राओं ने जींस-टॉप पहनने पर रोक, मोबाइल के मैसेज चेक करने व कॉलेज में मूलभूत सुविधाओं की कमी को लेकर मंगलवार को कक्षा का बहिष्कार कर  दिया। नारेबाजी करते हुए प्राचार्य का घेराव कर दिया। हालांकि प्राचार्य ने आरोप को निराधार बताते हुए ये कहा कि छात्राओं को सिर्फ छोटे टॉप पहनने से मना किया गया था। वहीं कॉलेज की अन्य समस्याओं को 15 दिन के अंदर दूर करने आश्वासन दिया है।

अरपापार सीपत रोड पर शासकीय माता शबरी नवीन कन्या कॉलेज की छात्राओं ने छात्रसंघ पदाधिकारियों के नेतृत्व में कक्षा का बहिस्कार कर कॉलेज को बंद करा मुख्यद्वार के सामने कॉलेज प्रशासन के सामने जमकर नारेबाजी की। छात्राओं ने प्राचार्य और स्टाफ पर तानाशाही का आरोप लगाते हुए कॉलेज में पानी, सफाई समेत अन्य मूलभूत सुविधाओं के ठप होने की बात कही। छात्राओं ने बताया कि प्राचार्य और प्राध्यापक न सिर्फ जींस और टॉप पहनने पर रोक-टोक करते हैं, बल्कि उनके मोबाइल पर आने वाले मैसेज को भी चेक करते हैं, जो निजता के हनन की श्रेणी में आता है। छात्राओं ने बताया कि कॉलेज प्रशासन के अफसरों ने नैक टीम को दिखाने के लिए चकाचक कैंटीन खुलवाया, गार्डन बनवाए, वाईफाई शुरू कराया।

लेकिन टीम के जाते ही सभी जगह ताला लगा दिया। वाईफाई भी ठप पड़ा है। कॉलेज में पीने और निस्तार के लिए पानी की सुविधा तक नहीं है। लाइब्रेरी में आउट डेटेड पुस्तकें हैं। छात्रसंघ परिषद की शपथ लेने के बाद उन लोगों ने कई बार इन समस्याओं को लेकर प्राचार्य को ज्ञापन सौंपा, लेकिन कोई कार्रवाई की नहीं गई। उस पर कपड़े को लेकर टोकाटोकी और चरित्र को लेकर ऊंगली उठाई गई। छात्राओं ने प्राचार्य के समक्ष इस मामले को लेकर शिकायत करते हुए मूलभूत सुविधा मुहैया कराने की मांग की। प्राचार्य ने छात्राओं द्वारा लगाए गए तमाम आरोपों को नकारते हुए उनकी मूलभूत सुविधाओं का 15 दिन में समाधान करने का आश्वासन दिया तब कहीं छात्राएं शांत हुई। ज्ञापन सौंपने वालों में छात्रसंघ अध्यक्ष शशिबाला सूर्यवंशी, उपाध्यक्ष पूजा गिरी तथा सहसचिव रेणुका दुबे समेत अन्य छात्राएं मौजूद थीं।

कॉलेज में छात्राओं के मोबाइल लाने पर प्रतिबंध लगाया गया है। जींस टॉप पर रोकटोक करने, मोबाइल का मैसेज चेक करने का आरोप निराधार है। छात्राओं को लांग टाप पहनने को कहा था। जहां तक पानी की समस्या की बात है नल बंद होने पर समस्या होती है, ड्रम रखवा देंगे इसके अलावा अन्य समस्याओं का निदान भी 15 दिन के अंदर करा लिया जाएगा।
मंजू त्रिपाठी, प्राचार्य, शा0 माता शबरी नवीन कन्या कॉलेज

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned