बेटी को अपनाने से किया इनकार, कोर्ट ने कराया डीएनए टेस्ट 

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Nov, 30 2016 10:26:00 (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
बेटी को अपनाने से किया इनकार, कोर्ट ने कराया डीएनए टेस्ट 

आरोपी जितेंद्र उर्फ जित्तू पिता लल्लूराम बंजारे (28) उसलापुर नेचर सिटी का रहने वाला है। उसने एक तलाकशुदा महिला को शादी करने का वादा किया था।

बिलासपुर. सिविल लाइन पुलिस के आवेदन पर मंगलवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट के आदेश पर सिम्स के डॉक्टरों ने  डीएनए टेस्ट के लिए 11 माह की बच्ची, उसकी मां और आरोपी प्रेमी का ब्लड सैंपल लिया। डीएनए टेस्ट करवाकर डॉक्टरों की टीम इसकी रिपोर्ट कोर्ट में सौंपेगी।

आरोपी जितेंद्र उर्फ जित्तू पिता लल्लूराम बंजारे (28) उसलापुर नेचर सिटी का रहने वाला है। उसने एक तलाकशुदा महिला को शादी करने का वादा किया था। उसके बाद दोनों बिना शादी के साथ रहने लगे। जब महिला ने एक बेटी को जन्म दिया, तो आरोपी ने बच्ची को किसी दूसरे की बताकर महिला से शादी करने व बच्ची को अपनाने से इनकार कर दिया। पीडि़त महिला ने 14 नवंबर 2016 को सिविल लाइन थाने में रिपोर्ट की। पुलिस ने जितेंद्र के खिलाफ धारा 376, 493 के तहत अपराध दर्ज कर उसे कोर्ट के आदेश पर जेल भेजा। इधर आरोपी ने बयान में पुलिस से यह कहा, कि महिला उस पर गलत आरोप लगा रही है, जबकि बच्ची उसकी है ही नहीं।

आरोपी व पीडि़त महिला के कथन की सत्यता जानने के लिए पुलिस ने अदालत ने डीएनए टेस्ट करवाने की अनुमति मांगी थी। इस आवेदन पर सहमति जताते हुए मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी पल्लवी तिवारी की अदालत ने डीएनए टेस्ट करवाने के आदेश दिए। मंगलवार को  डॉक्टरों ने अदालत के समक्ष बच्ची, आरोपी पिता व मां का ब्लड सैंपल लिया।

सिम्स से सैंपल लेने पहुंची टीम

सिविल लाइन थाने के उपनिरीक्षक जेआर बंजारे द्वारा केस डायरी पेश करने के बाद आरोपी को अदालत में पेश किया गया। डीएनए टेस्ट के लिए सैंपल लेने सिम्स से डॉ. एसएन बोले, डिमॉस्ट्रेटर विवेक कुमार शर्मा, लैब टेक्नीशियन अनिता सारथी और वार्ड आया दुलारा साहू की टीम पहुंची थी।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned