मानवता तार तार, अस्पताल का नहीं चुकाया बिल तो डेड बॉडी को बनाया बंधक

Bilaspur, Chhattisgarh, India
  मानवता तार तार, अस्पताल का नहीं चुकाया बिल तो डेड बॉडी को बनाया बंधक

मगरपारा स्थित किम्स हॉस्पिटल प्रबंधन द्वारा लाश को बनाने का मामला सामने आया है। दो दिनों से एक शव को प्रबंधन द्वारा बंधक बनाकर रखा गया है। 

बिलासपुर. मगरपारा स्थित किम्स हॉस्पिटल प्रबंधन द्वारा लाश को बनाने का मामला सामने आया है। दो दिनों से एक शव को प्रबंधन द्वारा बंधक बनाकर रखा गया है। मृतक के परिजन शव के लिए भटक रहे हैं। प्रबंधन का कहना है कि जब तक पूरा बिल चुकता नहीं किया जाता, तब तक शव परिजनों को नहीं सौंपा जाएगा। 


मिली जानकारी के अनुसार मृतक संतोष सूर्यवंशी मूलत: जांजगीर चाम्पा का रहने वाला है। पांच दिन पहले वह पोताई(पेंटिंग) करते वक्त 20 फ़ीट ऊपर से गिर गया था।

पहले उसका प्राथमिक इलाज़ जांजगीर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में हुआ। जहां से चिकित्सकों ने उसे किम्स जाने की सलाह दी। दो दिन पूर्व इलाज के दौरान संतोष की किम्स में मौत हो गयीं। किम्स प्रबंधन ने 80000 हज़ार का बिल बनाया। मृतक के परिजनों को पहले 35000 हज़ार बताया गया था, जिस राशि का भुगतान किया जा चुका  है, लेकिन किम्स प्रबंधन ने 80000 हज़ार रुपए पटाने के एवज में दो दिन से लाश को रोक के रखा है।

परिजन दो दिन से किम्स प्रबंधन से लाश देने की गुहार लगा रहे है। अभी भी मृतक का भाई मोहन सूर्यवंशी किम्स में है जो अपने भाई की लाश लेने का इंतज़ार कर रहा है लेकिन किम्स प्रबंधन राशि पटाने पर ही लाश देने की बात पर अड़ा हुआ है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned