बढऩे लगा दवाब, सियासत भी शुरू, पुलिस ने घोषित किया 30 हजार रुपए इनाम

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Jan, 13 2017 11:51:00 (IST)

Bilaspur, Chhattisgarh, India
बढऩे लगा दवाब, सियासत भी शुरू, पुलिस ने घोषित किया 30 हजार रुपए इनाम

आला अधिकारी इसे लेकर लगातार दिशा-निदेज़्श दे रहे हैं। गुरुवार को आईजी विवेकानंद व एसपी मयंक श्रीवास्तव घटना स्थल पर निरीक्षण के लिए पहुंचे।

बिलासपुर. मस्तूरी की निभज़्या के गुनाहगारों का छठवें दिन भी कोई सुराग नहीं मिल सका। इधर पुलिस पर जनाक्रोश के साथ दबाव लगातार बढ़ता जा रहा है। इस पर सियायत भी तेज हो गई है। इसे देखते हुए पुलिस भी जल्द से जल्द मामले का पदाफज़श करना चाहती है। आला अधिकारी इसे लेकर लगातार दिशा-निदेज़्श दे रहे हैं। गुरुवार को आईजी विवेकानंद व एसपी मयंक श्रीवास्तव घटना स्थल पर निरीक्षण के लिए पहुंचे। साथ ही अब पुलिस ने मामले में क्लू देने वालों के लिए 30 हजार रुपए नगद इनाम की घोषणा कर दी है। 6 जनवरी को दरिंदों ने दुष्कमज़् करके मस्तूरी की निभज़्या की बेरहमी से हत्या कर दी थी।

 7 जनवरी को उसकी लाश खुड़ूभाठा के सूनसान इलाके में खेत में मिली थी। मृतका जयराम नगर के मेडिकल स्टोर में काम करती थी। घटना स्थल से करीब 200 मीटर दूर झाडिय़ों में युवती की टूटी फूटी साइकिल मिली थी। घटना स्थल के आसपास शराब की बोतलें और डिस्पोजल गिलास मिले थे। पुलिस ने हत्या का मामला दजज़् कर छानबीन शुरू की। 100 से अधिक लोगों से पूछताछ की जा चुकी। इधर जनाक्रोश व राजनीतिक संगठनों से पुलिस पर लगातार दबाव बढ़ रहा है। राजनीतिक व सामाजिक संगठनों ने घटना की निंदा करते हुए पुलिस की जांच को ही कटघरे में खड़ा कर दिया है। छात्र संगठनों व अन्य लोग भी इसे लेकर आवाज बुलंद कर रहे हैं। आरोपियों को पकडऩे में नाकाम चौतरफा दबाव झेल रही है।


गुरुवार को आईजी विवेकानंद सिन्हा और एसपी मयंक श्रीवास्तव ने घटना स्थल का निरीक्षण किया। उन्होंने अब तक हुई जांच की समीक्षा करते हुए जरूरी निदेज़्श दिए और पुलिस कमिज़्यों को टीम बनाकर पतासाजी करने के लिए कहा। पुलिस पर बढ़ते दबाव को देखते हुए अपराधियों का सुराग बताने वाले व्यक्ति को 30 हजार रुपए इनाम देने की घोषणा की गई है।

घटनास्थल से मृतका का टिफिन गायब

पुलिस के अनुसार मृतका अपने साथ टिफिन लेकर जाती थी। घटना स्थल पर वह टिफिन नहीं मिला। गुरुवार को पुलिस ने मेटल डिटेक्टर और डीप मेटल डिटेक्टर से आसपास करीब 500 मीटर के दायरे में झाडिय़ों के बीच तलाश की। पुलिस अनुमान लगा रही है कि आरोपी मृतका का टिफिन और वेतन के रुपए साथ ले गए होंगे।

भोपाल के एफएसएल एक्सपटज़् से ले रहे मदद

हत्यारे तक पहुंचने के लिए पुलिस भोपाल के एफएसएल एक्पटज़् से मदद ले रही है। एफएसएल एक्सपटज़् को घटना स्थल से बरामद साक्ष्य से अवगत कराया गया। साथ ही पूरीे घटना की जानकारी दी गई। एफएसएल अधिकारी ने जांच के संबंध में कुछ क्लू दिए हैं। इस पर पुलिस पतासाजी कर रही है।

छजकां ने सौंपा आईजी व कलेक्टर को ज्ञापन

छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस ने पुलिस पर अपराधियों को प्रश्रय देने का आरोप लगाते हुए मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की। गुरुवार को छजकां ने मरवाही सदन से रैली निकालकर पहले आईजी विवेकानंद सिन्हा को ज्ञापन सौंपा, फिर कलेक्ट्रेट पहुंचे। कलेक्टर अंबलगन पी इस दौरान मंथन सभा हॉल में मीटिंग ले रहे थे। सूचना मिलने पर उन्होंने बाहर निकलकर मरवाही विधायक और प्रतिनिधि मंडल से चचाज़् की। मरवाही विधायक ने पुलिसिया जांच पर सवाल उठाए।

परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी, 50 लाख मुआवजा दें : बसपा
बहुजन समाज पाटीज़् ने प्रभावित परिवार के एक सदस्य को शासकीय नौकरी और 50 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग की है। मुआवजा और नौकरी नहीं देने पर बसपा आंदोलन करेगी। बसपा के प्रदेश प्रभारी एमएल भारती ने गुरुवार को सकिज़्ट हाउस में पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि दलित परिवार की युवती की नृशंस हत्या व दुष्कमज़् से शासन,प्रशासन की नाकामी उजागर हो गई है। अपराधियों को अब तक नहीं पकड़ पाना पुलिस की कायज़्प्रणाली पर सवालिया निशान लगा दिया है। बसपा ने भारती के नेतृत्व में कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।



Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned