राजस्व विभाग ने 2 भट्ठों से जब्त की 6 लाख ईंटें, खनिज विभाग को मतलब नहीं

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Apr, 21 2017 12:51:00 (IST)

bilaspur
राजस्व विभाग ने 2 भट्ठों से जब्त की 6 लाख ईंटें, खनिज विभाग को मतलब नहीं
बिलासपुर. छेरकाबांधा में अवैध रूप से ईंट भट्ठा चलाने वालों के खिलाफ राजस्व अधिकारियों की टीम ने गुरुवार को छापामार कार्रवाई करते हुए दो भट्ठे से लगभग 6 लाख ईंट जब्त की है। इन दोनों भट्ठा संचालकों के पास खनिज विभाग से लाइसेंस नहीं था।

वहीं खनिज विभाग के अधिकारी इस मामले में अब तक मौन साधे हुए है। कोटा विकासखंड के ग्राम पंचायत छेरकाबांधा में गणेशराम यादव पिता मालिक राम यादव अवैध तरीके से दो ईंट भट्ठे संचालित कर रहा था। इसके लिए खनिज विभाग से लाइसेंस नहीं लिया गया था। कोटा एसडीएम डीआर डाहिरे के निर्देश पर रतनपुर के नायब तहसीलदार कमलेश मिरी के नेतृत्व में राजस्व कर्मचारियों की टीम ने गुरुवार को दोपहर में छापामार कार्रवाई की।

3.80 लाख ईंटें जब्त  :  छेरकाबांधा में गणेशराम यादव के दो ईंट भट्ठे से राजस्व अधिकारियों की टीम ने कच्ची और पक्की ईंट को जब्त करने की कार्रवाई की। मौके पर लगभग 3.80 लाख ईंट को जब्त करने के बाद पूर्व सरपंच गंगाराम पोर्तें के सुपुर्द में किया गया है।

लारीपारा में भी 1.90 लाख ईंटें जब्त  : ग्राम पंचायत छेरकाबांधा के मोहल्ले लारीपारा में रामरतन साहू पिता बुलाकी साहू अवैध ईंट भट्ठा संचालित कर रहा था। नायब तहसीलदार मिरी के नेतृत्व में इस ईंट भट्ठे की भी जांच की गई। नायब तहसीलदार ने इस भट्ठे से लगभग 1.90 लाख ईंट जब्त की है। जब्त ईंट को पूर्व सरपंच के सुपुर्द में दिया गया है।

'पत्रिकाÓ की खबर पर त्वरित कार्रवाई :
'पत्रिकाÓ ने गुरुवार के अंक में ग्राम पंचायत छेरकाबांधा में अवैध ईंट भट्ठे संचालित होने की खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद एसडीएम ने इस मामले में तुरंत कार्रवाई करते हुए दोनों ईंट भट्ठे से लगभग 5.70 लाख ईंट जब्त करने की कार्रवाई की गई है। इसके दो दिन पहले  राजस्व अमले ने ग्राम खरगहनी  में चित्रकांत  जायसवाल के ईंट भट्ठे से लगभग दो लाख ईंट जब्त किए थे।

खनिज विभाग है मौन : कोटा क्षेत्र के एक दर्जन से अधिक ग्राम पंचायतों में अवैध ईंट भट्ठे संचालित हो रहे है। लेकिन खनिज महकमा ने इन ईंट भट्ठा संचालकों के खिलाफ अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है। पिछले सप्ताह अवैध रूप से ईंट भट्ठा चलाने वाले को लायसेंस देने के एवज में खनिज निरीक्षक ओमप्रकाश खांडेकर को एसीबी की टीम ने 10 हजार रुपए रिश्वत लेते  खनिज विभाग में पकड़ा था। एसीबी की टीम ने इस मामले में खनिज निरीक्षक को गिरफ्तार किया गया। खनिज निरीक्षक न्यायिक अभिरक्षा में जेल में है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned