हादसे में किशोर की मौत, चक्काजाम करने वाले ग्रामीणों ने किया पथराव, पुलिस की वर्दी फाड़ी

Kajal Kiran Kashyap

Publish: Jun, 20 2017 12:20:00 (IST)

bilaspur
हादसे में किशोर की मौत, चक्काजाम करने वाले ग्रामीणों ने किया पथराव, पुलिस की वर्दी फाड़ी

मरवाही के ग्राम बरौर की घटना, ट्रक की चपेट में आने से हुई थी मौत, ग्रामीणों के खिलाफ अपराध दर्ज

बिलासपुर. ट्रक की चपेट में आकर बाइक सवार एक किशोर की मौत हो गई। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने चक्काजाम पुलिस पर पथराव कर दिया। झूमाझटकी में उनकी वर्दी फाड़ दी। घटना रविवार शाम मरवाही थानांतर्गत ग्राम  बरौर में हुई। पुलिस ने मध्यप्रदेश के एक गांव के सरपंच समेत 50 से अधिक लोगों के खिलाफ अपराध दर्ज कर लिया है।

मरवाही पुलिस के अनुसार, मध्यप्रदेश अनूपपुर के ग्राम बहतराई का 17 वर्षीय मनोज पिता बेसहान  केंवट रविवार को मरवाही के ग्राम बरौर आया था। सुबह 9 बजे वह बाइक पर लौट रहा था। इसी समय ट्रक (एमपी 65 जीए 0646) की चपेट में आने से उसकी मौत हो गई।

चालक ट्रक छोड़कर भाग गया।  घटना की सूचना मिलने पर ग्राम बहतराई के सरपंच  गेंदलाल समेत 50 से अधिक लोगों ने ट्रक के हेल्पर अमरकंटक निवासी कल्लू की जमकर पिटाई की और गांव में चक्काजाम कर दिया। वे मृतक के परिजनों को 10 लाख रुपए मुआवजा देने की मांग पर अड़े हुए थे। सुबह से शाम 6 बजे तक सड़क पर बैठकर प्रदर्शन करते रहे। शाम को पेंड्रा एसडीएम ऋचा चौधरी ने मृतक के परिजनों को 30 हजार रुपए मुआवजा राशि दी।

परिजन मुआवजा लेकर चले गए थे, लेकिन ग्रामीण 10 लाख की मांग पर अड़े थे। पुलिस ने उन्हें चक्काजाम खत्म करने के लिए कहा, लेकिन वे नहीं माने। उल्टे पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया। जवाब में पुलिस कर्मियों ने भी बल प्रयोग किया। इस बीच ग्रामीणों ने पुलिस कर्मियों की वर्दी फाड़ते हुए उनकी पिटाई कर दी।

हमले में मरवाही थाने के आरक्षक सतपूरण जांगड़े, रामगोपाल साहू और सुंदर समेत 6 पुलिस कर्मी घायल हो गए। पुलिस ने सरपंच गेंदलाल समेत करीब 50 ग्रामीणों के खिलाफ भादवि की धारा 147, 294, 353, 332, 506 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned