जिस दुकान में लगाई आग, वहीं से बिक रही थी शराब, महिलाओं ने देखा तो जताया विरोध

Editorial Khandwa

Publish: Apr, 21 2017 02:04:00 (IST)

burhanpur
जिस दुकान में लगाई आग, वहीं से बिक रही थी शराब, महिलाओं ने देखा तो जताया विरोध

काफी देर तक दुकान मालिक द्वारा मान मनौव्वल के बाद भी कांग्रेसियों का विरोध कम नहीं हुआ तो उन्होंने दुकान पर ताला लगा दिया। महिलाओं ने शराब ठेकेदार से कहा कि आप यहां से दुकान खाली कर दो, हमारे लिए मुसीबत बनती जा रही है।

बुरहानपुर. प्रगति नगर में बंद दुकान से शराब की बिक्री होने पर महिलाएं लामबंद हो गईं। गुरुवार दोपहर 12 बजे महिलाएं दुकान के गेट के बाहर खड़ी होकर नारेबाजी करने लगीं। महिलाओं का साथ कांग्रेसी नेताओं ने भी दिया। उन्होंने धरना देकर विरोध जताया। काफी देर तक दुकान मालिक द्वारा मान मनौव्वल के बाद भी कांग्रेसियों का विरोध कम नहीं हुआ तो उन्होंने दुकान पर ताला लगा दिया।
women protested Against liquor shops

Must Read... चलती ट्रेन में किन्नर के साथ रेप, पुलिस बोली : मामले की करेंगे जांच

महिलाओं ने शराब ठेकेदार से कहा कि आप यहां से दुकान खाली कर दो, हमारे लिए मुसीबत बनती जा रही है। पिछले दिनों शनवारा की शराब दुकान को हाईवे से हटाकर प्रगति नगर में शिफ्ट कर दिया गया था। प्रगति नगर में शराब दुकान शिफ्ट होने के बाद महिलाओं ने महिलाओं ने विरोध करते हुए उसे आग के हवाले कर दिया था।

Must Read... यहां बीच रोड शौच जाने वालों को पकड़वाया कान, थाने में कराई उठक-बैठक

ज्ञापन न लेने पर बिगड़ा पूरा मामला
कांग्रेसियों ने कहा कि दुकान जब बंद है तो फिर यहां पर शराब क्यों बेची जा रही है? इस पर मौजूद कोतवाली पुलिस के उपनिरीक्षक एस चौहान ने कहा आप आवेदन बनाकर दें। यह सुनकर अजय रघुवंशी ने सभी के हस्ताक्षर लेकर ज्ञापन तैयार किया और जब चौहान को देने लगे तो उन्होंने कहा कि आबकारी उपनिरीक्षक अभिलाषा वर्मा यही हैं, आप उन्हें ही दें। रघुवंशी ने जब आबकारी उपनिरीक्षक को पत्र देने लगे तो उन्होंने लेने से इनकार करते हुए बोलीं, हमारे अधिकारियों को ही ज्ञापन दें। उन्होंने कहा कि दुकान यहीं खोलने की अनुमति है, हम इसे बंद नहीं कर सकते।

Must Read... नौ करोड़ का भैंसा युवराज आएगा बुरहानपुर, 9 दिन रहेगा धामनगांव मेले में

इस बात से मामला बिगड़ गया। कांग्रेसियों ने नारेबाजी शुरू कर दी। दुकान के गेट के बाहर धरना देने लगे। क्षेत्र की महिला लक्ष्मी बाई, तबस्सुम बाई सहित कई भी प्रदर्शन करने लगीं। यह देख शराब ठेकेदार कांग्रेस जिलाध्यक्ष से प्रदर्शन को खत्म करने की गुहार करने लगा।

Must Read...निगम अध्यक्ष के खिलाफ कांग्रेस लाएगी अविश्वास प्रस्ताव, कलेक्टर से की मुलाकात

रघुवंशी ने दुकान मालिक सुभाष शंखपाल से कहा कि जब किरायानामा नहीं बना तो फिर यहां से शराब कैसे बची जा रही है?। तुरंत ही शंखपाल ताला चाबी लेकर आया और गेट पर ताला लगा दिया। शंखपाल ने शराब ठेकेदार से कहा कि दुकान से सामान खाली कर दो, हमें दुकान नहीं देना है। जनता के हित को देखते हुए यहां से आप चले जाए। दुकान मालिक की बात सुनने के बाद सभी महिलाएं शांत हुईं और वहां से शराब दुकान हट गईं।
मांगी थी मोहलत
इसके बाद कलेक्टर ने इसे बंद करने के आदेश दिए।  इसपर ठेकेदार ने अन्य जगह दुकान मिलने तक यहां पर सामान पड़ा रहने के लिए समय मांगा था। लेकिन बुधवार रात से फिर यहां पर शराब की बिक्री शुरू हो गई। इसी बात को लेकर महिलाएं लामबंद हो गईं। वे नारेबाजी करते हुए शराब दुकान के गेट के सामने खड़ी हो गईं।

Must Read...टूट गई पटरी, राजकोट-रीवा एक्सप्रेस को रोका, बाल-बाल बचा हादसा

उनका कहना था कि जब दुकान बंद कर दी है, तो फिर शराब बिक्री क्यों की जा रही है? काफी देर तक महिलाओं का हंगामा चलता रहा। थोड़ी देरबाद जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय रघुवंशी, निगम के प्रतिपक्ष नेता अकिल औलिया और अमर यादव सहित कई कांग्रेसी महिलाओं के बात का समर्थन करते हुए विरोध प्रदर्शन करने लगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned