टेलीकॉम क्षेत्र में 10 अरब डॉलर से अधिक बढ़ा एफडीआई : एसोचैम

Business
 टेलीकॉम क्षेत्र में 10 अरब डॉलर से अधिक बढ़ा एफडीआई : एसोचैम

वित्त वर्ष 2016-17 के शुरुआती आठ महीनों में देश के टेलीकॉम क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) 10 अरब डॉलर से अधिक बढ़ा है। वित्त वर्ष 2014-15 में यह आंकड़ा 1.3 अरब डॉलर तथा 2015-16 में 2.9 अरब डॉलर रहा था । 

नई दिल्ली।  वित्त वर्ष 2016-17 के शुरुआती आठ महीनों में देश के टेलीकॉम क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) 10 अरब डॉलर से अधिक बढ़ा है। वित्त वर्ष 2014-15 में यह आंकड़ा 1.3 अरब डॉलर तथा 2015-16 में 2.9 अरब डॉलर रहा था । उद्योग संगठन एसोचैम द्वारा आयोजित एक शिखर सम्मेलन में टेलीकॉम सचिव जे एस दीपक ने कहा,Þ दूरसंचार विभाग द्वारा इस क्षेत्र के लिए किये गये सुधारों का अच्छा परिणाम छह से सात गुणा बढ़ी एफडीआई के रूप में मिला है। बढा हुई एफडीआई सिर्फ नीति नियामक क्षेत्र और सुधारों की दिशा में उठाये गये कदमों के भरोसे का प्रतिनिधित्व नहीं करती बल्कि इससे टेलीकॉम क्षेत्र के विस्तार का रोडमैप तैयार होता है और इसके लिए प्रतिबद्धता बढ़ती है। Þ उन्होंने कहा,Þ लगभग 97 प्रतिशत आबादी 2जी नेटवर्क के दायरे में आती है, जिसे अधिकतर निजी टेलीकॉम ऑपरेटर देते हैं। अब समय आ गया है कि यूएसएसडी को सरलीकृत करके लोकप्रिय बनाया जाये। हमें पुल यूएसएसडी के बजाय पुश यूएसएसडी की आवश्यकता है ताकि व्यापारी फीचर फोन यूजर्स को मैसेज भेज सकें जहां लेनदेन के लिए बस ओके बटन दबाना हो और यह वापस जाकर लेनदेन पूरा करे। 

 उन्होंने कहा कि नोटबंदी से डिजिटल भुगतान प्रणाली पर काफी प्रभाव पड़ा है। उन्होंने कहा कि डिजिटल इंडिया पहल के जरिये सरकार नागरिक सेवा को उपस्थिति रहित, पेपर रहित और नगद रहित बना रही है। इस अवसर पर भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण के अध्यक्ष आर एस शर्मा ने बताया कि ट्राई नेशनल पेमेंट कॉर्पोरेशन ऑथोरिटी ऑफ इंडिया(एनपीसीआई) के साथ मिलकर यूएसएसडी लेनदेन को सरल बनाने की कोशिश कर रहा है। यूएसएसडी पेंमेंट गेटवे में कई काम किये गये हैं। इसका शुल्क डेढ़ रुपये से एक तिहाई घटाकर 50 पैसे कर दिया गया है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned