दिल्ली में आज नहीं चल रही है एप-आधारित टैक्सी, चालकों ने की हड़ताल

Car
दिल्ली में आज नहीं चल रही है एप-आधारित टैक्सी, चालकों ने की हड़ताल

दिल्ली में एप-आधारित टैक्सी और ऑटो चालकों की 13 एसोसिएशन ने उबेर और ओला के खिलाफ हड़ताल पर चली गई है

नई दिल्ली। दिल्ली के यात्रियों को आज असुविधा का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि एप-आधारित टैक्सी और ऑटो चालकों की 13 एसोसिएशन ने उबेर और ओला के खिलाफ हड़ताल पर चली गई है। बता दें इस हड़ताल में ऑटो और काली-पीली टैक्सियां भी शामिल हो रही है। हड़ताली चालकों की मांग ओला और उबेर द्वारा 'शेयर' सेवा पर रोक लगाने, टैक्सियों को दिल्ली सरकार द्वारा अधिकृत मीटर से चलाने की है।

सर्वोदय ड्राइवर्स एसोसिएशन ऑफ दिल्ली के अध्यक्ष कमलजीत गिल ने बताया, "हमने ऐसी ही हड़ताल फरवरी में की थी। लेकिन उस वक्त इसमें केवल एक एसोसिएशन शामिल थी। इस बार 13 से ज्यादा यूनियनें हमारे साथ आंदोलन करेगी। गिल का कहना हैं, ये कंपनियां बहुत बड़ी ठग हैं। जैसे कोई सिनेमा का टिकट 'ब्लैक' करता है, वैसे ही यह कंपनियां अपना काम करती हैं। जब ज्यादा लोग होते हैं तो ये रेट बढ़ा देते हैं और उसे 'सर्ज प्राइसिंग' या 'पीक आवर' का नाम दे देते हैं। वे 6 रुपये प्रति किलोमीटर का रेट बताते हैं और आप 10-20 रुपये प्रति किलोमीटर का भुगतान करते हैं।

दिल्ली टैक्सी, टूरिस्ट ट्रांसपोटर्स एंड टूर ऑपरेटर एसोसिएशन के अध्यक्ष संजय सम्राट ने बताया, यह हड़ताल मुख्यत: ओला और उबेर चालकों द्वारा की जा रही है। लेकिन हम भी उनके समर्थन में आधे दिन तक हड़ताल में शामिल होंगे। वहीं, उबेर ने एक बयान में कहा, दिल्ली उच्च न्यायालय ने उबेर चालक भागीदारों को अपने काम के बारे में जाने से रोकने के लिए यूनियन नेताओं और सदस्यों को एक स्थायी निषेधाज्ञा जारी की है। हम अदालत के आदेश का स्वागत करते हैं और आशा करते हैं कि उबेर चालक बिना किसी डर या उत्पीडऩ के गाड़ी चलाएंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned