जानें, किस वजह से कार में लगती है आग और क्या इसके रोकने के उपाय  ?

Kamal Rajpoot

Publish: Apr, 16 2017 02:21:00 (IST)

Car
जानें, किस वजह से कार में लगती है आग और क्या इसके रोकने के उपाय  ?

एक गलत या नकली वायरिंग से कार में शॉर्ट सर्किट हो जाता है इसलिए वायरिंग का काम किसी अच्छे और एक्सपर्ट मैकेनिक से ही करवाना चाहिए

आपने अक्सर कार में आग लगने की घटनाओं के बारे में तो सुना ही होगा। ये घटनाएं अक्सर गर्मी के मौसम में अधिक होती है। लेकिन क्या आपने कभी गौर किया है कि आखिर कार में आग किस वजह से लगती है और यदि गलती से आग लग भी जाएं तो उसे बुझाने के लिए क्या करना चाहिए। चलो आज हम आपको इन सबके बारे में बताते हैं। 

एक कार में सैंकड़ों पुर्जे होते है और जब कार के कोई पार्ट्स में खराबी आती है तो उसे सीधे आर्थोराइज्ड सर्विस सेंटर पर ही दिखाना चाहिए। लेकिन आपने देखा होगा कि कई लोगा कुछ पैसा बचाने के चक्कर में अपनी कार को लोकल सर्विस सेंटर पर ही रिपेयर करवा लेते है, जिसका भुगतान हमें बाद में बड़े नुकसान के रूप में भुगतना पड़ता है। कई बार तो यह आग लगने की वजह भी बन जाता है।  

आजकल नई-नई कारों में एडवांस्ड एक्सेसरीज पहले से ही मौजूद होती है लेकिन कुछ बेस वैरिएंट में स्टीरियो सिस्टम, सिक्योरिटी सिस्टम और रिवर्स पार्किंग सेंसर्स जैसे कई फीचर्स मौजूद नहीं होते हैं। हालांकि इस तरह की एक्सेसरीज बाजार में आसानी से मिल जाती है लेकिन समस्या तब आती है जब हम इन्हें अप्रशिक्षित मैकेनिक के द्वारा रिपेयर करवाते है। बता दें एक गलत या नकली वायरिंग से कार में शॉर्ट सर्किट हो जाता है इसलिए वायरिंग का काम किसी अच्छे और एक्सपर्ट मैकेनिक से ही करवाना चाहिए।

फैक्ट्री फिटेड सीएनजी किट वाली कार का ही मार्केट से खरीदे। सस्ती और नकली सीएनजी किट में कई बार लीकेज की शिकायत आ जाती है, जिससे आग लगने का खतरा बढ़ जाता है। कार में फालतू की एक्सेसरीज भी नहीं लगवानी चाहिए। ये कार की बैटरी पर ज्यादा लोड बढ़ाती है, जिससे शॉर्ट-सर्किट होने के चांस बने रहते है। 

ये सामान हमेशा अपनी कार में रखें:- 

1. फायर एक्सटिंग्विशर
अपनी कार में एक फायर एक्सटिंग्विशर जरूर होना चाहिए ताकि जरूरत पडऩे पर आग बुझाने में आपके काम आ सके। 

2. सीट बेल्ट कटर
अपने सफर के दौरान कार में एक सीट बेल्ट कटर साथ में जरूर रखें। यह दुर्घटना के बाद फंसी हुई सीट बेल्ट को काटने के काम आता है। 

3. हथौड़ा 
कार में एक छोटा-मोटा हथौड़ा भी रखना चाहिए। यह दुर्घटना के बाद दरवाजों का शीशा तोडऩे के काम आता है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned