एक अफवाह और चली गई 7 लोगों की जान, पीट-पीटकर मार डाला

Shribabu Gupta

Publish: May, 19 2017 06:01:00 (IST)

Chaibasa, Jharkhand, India
एक अफवाह और चली गई 7 लोगों की जान, पीट-पीटकर मार डाला

राजनगर में मारे गए लोगों में तीन पोटका हल्दीपोखर निवासी थे जबकि एक का घर घाटशिला के फूलपाल में है...

सरायकेला। बच्चा चोरी की अफवाह में गुरुवार को राजनगर थाने के तीन गांवों में चार और बागबेड़ा के नागाडीह गांव में तीन लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई। एक महिला की हालत गंभीर है। उसे टीएमएच में भर्ती किया गया है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए दोनों जगहों पर पुलिस तैनात कर दी गई है।

कोल्हान के डीआईजी प्रभात कुमार ने बताया कि राजनगर में तीन लोगों की हत्या की पुष्टि हुई है, लेकिन चौथे के भी शव मिलने की सूचना मिली है। मौके पर एडीजी व अन्य अधिकारी पहुंच गए हैं।

राजनगर में मारे गए लोगों में तीन पोटका हल्दीपोखर निवासी थे जबकि एक का घर घाटशिला के फूलपाल में है। एक की हत्या शोभापुर में की गई जबकि दूसरे की डांडू व दो अन्य की सोसोमाली गांव में की गई। बताया जाता है कि मारे गए सभी लोग मांस कारोबारी थे।

कोल्हान डीआईजी प्रभात कुमार ने कहा कि तीन लोगों की हत्या की पुष्टि हुई है लेकिन चौथे का भी शव मिलने की सूचना मिली है। पुलिस कार्रवाई कर रही है। मौके पर एडीजी सहित अन्य पुलिस पदाधिकारी पहुंच गए हैं।

पुलिस के अनुसार राजनगर इलाके में बुधवार की रात बच्च चोर गिरोह के घूमने की अफवाह फैली। देर रात ही डांडू गांव के पास ग्रामीण वाहन रोककर आने-जाने वालों की जांच कर रहे थे। इस बीच हल्दीपोखर निवासी शेख हलीम की इंडिका कार पर मो. नईम, सज्जाद उर्फ सज्जू, सिराज रात दो बजे राजनगर की तरफ जा रहे थे। ज्योंही लोगों ने उनकी कार रोकी तो वे शोभापुर गांव में घुस गए। इसके बाद ग्रामीणों का संदेह और बढ़ गया।
शोभापुर में सभी हलीम के साढू मो. मुर्तजा के घर में जा घुसे।

भीड़ ने उस घर को घेर लिया और चेतावनी दी कि वे चारों को गांव वालों के हवाले करें वरना घर को जला दिया जाएगा। इसके बाद चारों को भीड़ के हवाले कर दिया गया। लोगों ने गुरुवार तड़के शोभापुर में ही नईम की हत्या कर दी। अन्य तीन को पकड़कर डांडू ले गए। वहां हलीम को मार डाला। भीड़ से बचकर सज्जाद व सिराज भाग निकले, लेकिन उन्हें सोसोमाली गांव में लोगों ने फिर पकड़ लिया और बांधकर उनकी पिटाई की। दोपहर में दोनों ने दम तोड़ दिया।

ग्रामीणों को रोकने गई पुलिस पर भी हमला भी किया गया। ग्रामीणों ने पुलिस की एक सूमो भी जला दी। ग्रामीणों के हमले सात पुलिस वाले घायल हो गए। गंभीर स्थिति को देखते हुए राजनगर में रैफ उतार दी गई है। रांची पुलिस मुख्यालय से एडीजी आपरेशन, एसपी आपरेशन नक्सल पहुंच चुके हैं।

मृतकों में तीन पोटका हल्दीपोखर निवासी थे जबकि एक का घर घाटशिला के फूलपाल में है। एक की हत्या शोभापुर में की गई जबकि दूसरे की डांडू और दो अन्य की सोसोमाली गांव में की गई।

साढ़े दस बजे पहुंचे एसपी : राजनगर के शोभापुर गांव में हुई हिंसक घटना के बाद सरायकेला के एसपी मौके पर साढ़े दस बजे पहुंचे। एसपी ने आक्रोशित ग्रामीणों को समझाया और उसके बाद पुलिसिया कार्रवाई की। पुलिसिया कार्रवाई के बाद मामला देर शाम ठंडा हुआ।

जदूगोड़ा में दो की हो चुकी है हत्या : पिछले सप्ताह ही जादूगोड़ा थाना क्षेत्र में बच्चा चोर के संदेह में दो लोगों को पीट-पीटकर मार दिया गया था। करीब डेढ़ माह के अंदर एक दर्जन लोगों को बच्चा चोर के आरोप में ग्रामीणों ने पीट-पीटकर अधमरा कर दिया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned