सीएम रघुवर बोले- राज्य का बजट 26 जनवरी से पहले होगा पेश

Shribabu Gupta

Publish: Dec, 01 2016 08:10:00 (IST)

Chaibasa, Jharkhand, India
सीएम रघुवर बोले- राज्य का बजट 26 जनवरी से पहले होगा पेश

इस बार 26 जनवरी के पहले ही झारखंड का बजट पेश कर दिया जायेगा। बजट पास होने और काम आरंभ करने में तीन चार माह का समय लग जाता है...

चाईबासा। इस बार 26 जनवरी के पहले ही झारखंड का बजट पेश कर दिया जायेगा। बजट पास होने और काम आरंभ करने में तीन चार माह का समय लग जाता है। तेज गति से विकास के लिए समय पर बजट पास होने का काम शुरू करने का लाभ बहुत जल्द दिखाई देगा।

यह बातें बुधवार को मुख्यमंत्री रघुवर दास ने यहां आयोजित बजट पूर्व संगोष्ठी को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने कहा कि सीएनटी एक्ट सहित किसी भी कानून में जनहित में जितनी बार आवश्यकता होगी, उसे बदला जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सीएनटी एक्ट के संशोधन में कहीं भी इंडस्ट्रीज के लिए जमीन लेने का प्रावधान नहीं किया गया है। इसके बावजूद विपक्ष के नेता इसे आदिवासियों के लिए जमीन लेने की साजिश बता रहे हैं। झारखंड नामधारी दल के नेता आदिवासियों का विकास नहीं चाहते हैं। वे चाहते हैं कि आदिवासी बकरी-मुर्गी पालन करे और रेजा कुली का काम करें।

उन्होंने कहा कि सिर्फ नौकरशाह के भरोसे राज्य का विकास नहीं हो सकता है। उनका लक्ष्य भ्रष्टाचारमुक्त झारखंड बनाना है। दो साल में उनके किसी मंत्री पर भ्रष्टाचार का आरोप नहीं लगा। वीरों की भूमि झारखंड विगत 15 साल में भ्रष्टाचार के लिए चर्चित हो गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पंचायत सचिवालय बनाने की दिशा में सरकार कदम बढ़ा रही है। स्कूलों में जातीय प्रमाण पत्र, आवासीय प्रमाण पत्र बने, इसके लिये सरकार काम कर रही है। गांव के लोगों को किसी काम के लिये प्रखंड कार्यालय नहीं जाना पड़े। इसके लिए सरकार काम कर रही है।

मानव तस्करी की शिकार महिलाओं के लिए राज्य में दो स्थानों पर हॉस्टल बनाया जायेगा। यहां इन महिलाओं को स्वाबलंबी बनने के लिए स्वरोजगार का प्रशिक्षण दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि लोहा खदान क्षेत्र की काली कमाई से नेता व अफसर मालामाल हुए। यहां के लोग दुर्दशा के शिकार हैं।

बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। महिलाएं अनीमिया की शिकार हैं। खदान क्षेत्र के लोगों को पीने के लिए साफ पानी नहीं मिल रहा है। खदान से मिलने वाली रॉयल्टी के बड़े हिस्से से नोवामुंडी गुआ के खदान क्षेत्र में पेयजल की व्यवस्था की जायेगी। गोष्ठी को मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, वित्त सचिव अमित खरे आदि ने भी संबोधित किया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned