दिल्ली व पंजाब का डंपिग ग्रांउड नहीं बनेगा हरियाणा

Yuvraj Singh

Publish: May, 13 2017 01:10:00 (IST)

Jaipur, Rajasthan, India
दिल्ली व पंजाब का डंपिग ग्रांउड नहीं बनेगा हरियाणा

उत्तरी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में भविष्य पर जताई चिंता, कूड़ा निस्तारण पर पड़ोसी राज्यों की कार्रवाई पर जताई आपत्ति

चंडीगढ़। दिल्ली व पंजाब द्वारा परोक्ष रूप से हरियाणा की नदियों को प्रदूषित किए जाने के मुद्दे पर हरियाणा गरम हो गया। प्रदेश के भविष्य के प्रति चिंतित दिखे हरियाणा के कृषि मंत्री ओ.पी. धनखड़ ने इस मुद्दे पर प्रस्तुति देते हुए पड़ोसी राज्यों को प्रदूषण के मामले में कड़ा संदेश देने का प्रयास किया। उत्तरी क्षेत्रीय परिषद की बैठक में हरियाणा के कृषि मंत्री ओ.पी. धनखड़ तथा मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर ने प्रदेश में फैल रहे प्रदूषण की समस्या पर गंभीर चिंता जताई। उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा कि हरियाणा किसी भी सूरत में दिल्ली व पंजाब जैसे पड़ोसी राज्यों का डंपिंग ग्रांउड नहीं बनेगा।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह की मौजूदगी में हुई बैठक में हरियाणा ने दिल्ली व पंजाब के प्रदूषण तथा कूड़े कचरे से होने वाले नुकसान की एक रिपोर्ट पेश की। रिपोर्ट के माध्यम से राज्यों को समझाने की कोशिश की गई कि यदि दिल्ली व पंजाब का कूड़ा हरियाणा में आना बरकरार रहा तो अगले दस सालों में यहां भयावह स्थिति हो जाएगी।
 
बैठक में हरियाणा ने बाकायदा अगले दस सालों के मंजर की चिंता जाहिर की। हरियाणा, दिल्ली और पंजाब में जब भी बाढ़ आती है तो सारा कचरा यहां बहकर चला आता है। उत्तर प्रदेश का कूड़ा भी दिल्ली के रास्ते हरियाणा में पहुंच जाता है। पंजाब में बहने वाली घग्घर नदी से आने वाले कूड़े के कारण भी हरियाणा की परेशानी बढ़ती है। लिहाजा पड़ोसी राज्यों को इस बारे में चिंता करनी होगी।

मुख्यमंत्री ने बैठक में कहा कि दिल्ली के खतरनाक कचरे के निपटान के लिए ट्रीटमेंट, स्टोरेज और डिस्पोजल प्लांट की विस्तृत परियोजनाओं को अंतिम रूप देने से पूर्व कचरे के निपटान के बारे में हरियाणा की चिंताओं का ध्यान रखा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली के आसपास हरियाणा का बड़ा एरिया है, जो एनसीार में आता है। संबंधित क्षेत्र के निवासियों के जीवन को ध्यान में रखकर तमाम परियोजनाएं तैयार की जानी चाहिए।

बैठक में यह मुद्दा भी उठा की यमुना नदी के किनारे लगे ट्रीटमेंट प्लांट नियमित रूप से काम नहीं कर रहे हैं। जिस कारण बरसात के दिनों में हरियाणा के लिए भारी दिक्कत पैदा हो जाती है। इसके अलावा पंजाब के कई उद्योगों द्वारा घगगर नदी में भी गंदा पानी गिराया जा रहा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned