डेम पर पिकनिक मनाने गए चार युवक डूबे, दो की मौत, महिलाओं ने साड़ी फेंक दो को बचाया

Deepak Rai

Publish: Jul, 17 2017 12:13:00 (IST)

chhatarpur hindi news, madhya pradesh news in hindi
डेम पर पिकनिक मनाने गए चार युवक डूबे, दो की मौत, महिलाओं ने साड़ी फेंक दो को बचाया

नए फाटक के बाद पुराने फाटक पर नहा रहे थे युवक, गहरे पानी में जाने से हुई मौत 


छतरपुर/हरपालपुर. यूपी-एमपी सीमा पर हरपालपुर से आठ किमी दूर लहचुरा डेम में पिकनिक मनाने आए चार युवक पानी में डूब गए। जिसमें दो युवकों को महिलाओं ने साड़ी फेंक कर बचा लिया। जबकि दो की डूबने से मौत हो गई। युवकों की डूबने की सूचना मिलते ही हरपालपुर क्षेत्र के कैंथोकर गांव से दो गोताखोरों को बुलाया गया। करीब चार घंटे की मशक्कत के बाद दोनों युवकों के शव मिले। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शवों का पंचनामा भर पोस्टमार्टम को 
भेजा है। 
जानकारी के अनुसार यूपी के झांसी जिले के मऊरानीपुर निवासी चार युवक बाइक से सुबह 11.30  यूपी-एमपी सीमा पर स्थित लहचूरा डेम पर पिकनिक मनाने पहुंचे। युवकों ने सबसे पहले इस डेम के दूसरे छोर जहां पर नए फाटक लगे हैं वहां नहाया। इसके बाद दोबारा नहाने के लिए चारों युवक डेम के पुराने फाटक के पास गए। वहां कुछ महिलाएं भी नहा रहीं थीं। युवक भी वहां नहाने लगे। इस दौरान मऊरानीपुर निवासी अनिकेत (19) पिता जगदीश डूबने लगा। तब राज प्रजापति (19) पिता किशोरी ने उसे बचाने गया। लेकिन वो भी डूबने लगा। इस दौरान मुकेश (16) पिता भगवति प्रजापति दोनों को बचाने की कोशिश की लेकिन वह भी सफल नहीं हुआ और स्वयं डूबने लगा। इस दौरान उनका चौथा साथी आमिर (17) डेम के फाटक किनारे बैठा था। जब उसने अपने दोस्तों को डूबते देखा तो वह पास में रखा बांस लेकर गया और बांस को पानी में डाल दोस्तों को बचाने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। जिसपर आमिर भी पानी में कूद कर उन्हें बचाने लगा। यह नजारा देख पास में नहा रहीं युवतियां व महिलाएं दौड़ पड़ी। इस दौरान युवतियों ने अपना डुपट्टा तो महिलाओं ने अपनी साडिय़ां पानी में फेंक चारों युवकों को बचाने की कोशिश की। तब पानी में डूब रहे आमिर व मुकेश ने साड़ी पकड़ ली। जिसके बाद  महिलाअेां व युवतियों ने उन्हें बाहर खींचा। जबकि राज प्रजापति व अनिकेत नामदेव पानी में डूब गए। दो युवकों के पानी में डूबने की जानकारी मिलने पर लोगों की भीड़ एकत्रित हो गई।
इसकी जानकारी मिलने पर महोबा जिले के कुलपहाड़ एसडीएम चंद्रशेखर सिंह, नायब तहसीलदार लाखन सिंह मौके पर पहुंचे। महोबकंठ थाना प्रभारी अंजनी राय व हरपालपुर क्षेत्र के जनप्रतिनिधि भी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शवों का पंचनामा भर पोस्टमार्टम को भेजा है। 

चार घंटे में गोताखारों ने निकाला दोनों शव
युवकों के डूबने की जानकारी मिलने पर हरपालपुर के निकट स्थित कैथोकर गांव के सरपंच प्रतिनिधि कौशल राजपूत मौके पर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कैथोकर निवासी गोताखोर कल्लू कुशवाहा और रमन कुशवाहा  को मौके पर बुलाया। इस दौरान गोताखोर कल्लू व रमन कुशवाहा दोनों की युवकों की तलाश जुट गए। इस दौरान दोपहर करीब 12 बजे से पानी में डूबे युवकों को खोजने में जुटे। इस दौरान करीब चार घंटे तक दोनों की तलाश की गई। शाम करीब चार बजे चार घंटे की मशक्कत के बाद अंकित नामदेव व राज प्रजाति का शव करीब पत्थरों में फंसा मिला।

दो घरों का इकलौता चिराग बुझा
बताया जा रहा है कि मृतक राज प्रजापति अपने घर में छह बहनों में अकेला भाई था। अनिकेत अपने घर में चार बहनों के अकेला भाई है। मृतक मऊरानीपुर के परवारी मोहल्ले के रहने वाले हैं। घटना की सूचना मृतक के परिजनों को दी गई। तब परिजन भी मौके पर पहुंचे। इन दोनों घरों का इकलौता चिराग बुझ गया। जिससे परिजनों का रो-रो बुरा हाल है। 


सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची थी। दो मृतकों के  शवों को गोताखोरों की मदद से बांध से निकाला गया। मर्ग कायम कर मामले की विवेचना शुरू कर दी गई है।
अंजनी राय, थाना प्रभारी 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned