कुल्हाड़ी से अंगुलियां काटने वाले को ढाई साल की सजा

Chhatarpur madhya pradesh
कुल्हाड़ी से अंगुलियां काटने वाले को ढाई साल की सजा

सहआरोपी को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया।

छतरपुर. कुल्हाड़ी से प्रहार कर हाथ की अंगुलियां काटने आरोपी को न्यायालय ने आरोपी को दोषी करार करते हुए ढाई साल की कैद व दो हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई। इसके साथ ही मामले के सह-आरोपी को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया है।

एडवोकेट लखन राजपूत ने बताया कि 10 अक्टूवर 2013 को 8 .30 बजे तालगांव निवासी प्रेमनारायण पटेल गांव में रखी देवी प्रतिमा के दर्शन करने गया था। रात में गांव के ही रामेश्वर पटेल और कुलदीप पटेल का पार्टियों के बीच में झगड़ा हो गया था। इसी विवाद के चलते तालगांव का चंद्रप्रकाश पटेल कुल्हाड़ी और जमुना पटेल लाठी लेकर आए। गालियां देते हुए चंद्रप्रकाश ने प्रेमनारायण पर कुल्हाड़ी से प्रहार कर दिया। जिसमें प्रेमनारायण की दो अंगुलियां काट दी। 

इसके साथ आरोपी जान से मारने धमकी देकर चले गए। मामले को पीडि़त ने राजनगर थाना में शिकायत दर्ज कराई गई।तत्कालीन निरीक्षक ओएस चंदेल ने आरोपियों को गिरफ्तार करके मामले को न्यायालय के सुपुर्द कर दिया। सत्र न्यायाधीश राजेन्द्र कुमार श्रीवास्तव की अदालत ने आरोपी चंद्रप्रकाश को अंगुलियां काटने के आरोप में दोषी करार देते हुए आईपीसी की धारा 326  में ढाई साल की कैद के साथ दो हजार रुपए जुर्माना की सजा सुनाई। वहीं सहआरोपी जमुना को साक्ष्य के अभाव में बरी कर दिया गया।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned