बिल पूरा, नाश्ता-भोजन देने में लापरवाही

arun garhewal

Publish: Jun, 20 2017 05:45:00 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
बिल पूरा, नाश्ता-भोजन देने में लापरवाही

ग्रामीणों का कहना है कि स्व.सहायता समूह आंगनबाड़ी में भोजन व नाश्ता सप्लाई करने का बिल तो पूरा ले रहे हैं, लेकिन प्रतिदिन भोजन व नाश्ता बच्चों को नहीं दिया जा रहा है। 

छिंदवाड़ा. शासन शहरी क्षेत्र में बच्चों को आंगनबाडिय़ों तक पहुंचाने के लिए विभिन्न योजनाए बना रहा है। एक और शहर में इसके लिए नए आंगनबाड़ी केंद्र का निर्माण किया जा रहा है तो वहीं दूसरी और विधायक  नत्थन शाह कवरेती  के निवास में आंगनबाड़ी केंद्र का संचालन जर्जर भवन में किया जा रहा। यही नहीं केंद्रों में एक माह से अधिक समय बीते जाने के बाद भी स्वसहायता समूह केंद्रों में प्रतिदिन नाश्ता व भोजन  नहीं पहुंचा रहा हैं। जिसकी शिकायत आंगनबाड़ी केंद्रों की कार्यकर्ताओं ने कई मर्तबा परियोजना कार्यालय मे की है पंरतु अब तक इस मामले में कोई संज्ञान नहीं लिया गया। मामला ग्राम डुंगरिया के बाजार क्षेत्र का है।    
ग्रामीणों का कहना है कि स्व.सहायता समूह आंगनबाड़ी में भोजन व नाश्ता सप्लाई करने का बिल तो पूरा ले रहे हैं, लेकिन प्रतिदिन भोजन व नाश्ता बच्चों को नहीं दिया जा रहा है। जिससे स्व सहायता समूह की लापरवाही उजागर हो रही है। 
ग्राम डुंगरिया में विश्वास स्वसहायता समूह को पूर्व में डिफाल्टर घोषित किया जा चुका है। इस समूह की वितरण अव्यवस्था को लेकर इसकी जांच भी पूर्व में की जा चुकी है।  परियोजना विभाग एक द्वारा इस समूह को हटाने की कार्रवाई को अब किया जाना संदेह के घेरे में रख रहा है। कार्यकर्ताओं ने बताया कि 3 मई से इस समूह द्वारा ग्राम की इन तीनों 
आंगनबाड़ी में भोजन व नाशता नहीं परोसा जा रहा है जिसके लिए सुपरवाइजर से भी पत्र व्यवहार किया गया है। आंगनबाड़ी क्रमांक 2 में जर्जर भवन में संचालित हो रहा है जो कभी धराशायी हो सकता हैं।  केंद्र में  बच्चों के लिए शौचालय तक की व्यवस्था नहीं हैं।   ग्रामीण सूरज, पन्ना बावनकर, महमूद, अहमद व सहिद ने शासन से जर्जर भवन से केंद्र बदलने की मांग की है एवं नियमित भोजन व नाश्ता उपलब्ध कराने की मांग परियोजना अधिकारी से की है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned