इंजीनियरिंग में पाना है प्रवेश तो यहां करें आवेदन

rajendra sharma

Publish: Jun, 20 2017 11:57:00 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
इंजीनियरिंग में पाना है प्रवेश तो यहां करें आवेदन

प्रवेश क्षमता 21 हजार, अब तक 17 हजार आवेदन


छिंदवाड़ा (नागपुर).यदि कोई विद्यार्थी या अभिभावक इंजीनियरिंग में प्रवेश को लेकर परेशान है तो उन्हें यह खबर राहत देने वाली है। अब उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है।
दरअसर, ऑरेंज सिटी में इंजीनियरिंग में प्रवेश लेने वाले विद्यार्थियों की संख्या तेजी से घट रही है। इस वर्ष प्रवेश क्षमता के मुकाबले 4 हजार आवेदन कम आने से इंजीनियरिंग की विविध शाखाओं में सीटें रिक्त रहने की स्थिति बनी हुई है। हालांकि तकनीकी शिक्षा संचालनालय की ओर से आवेदन की तिथि बढ़ा दी गई है। नागपुर विभाग में इंजीनियरिंग की प्रवेश क्षमता 21 हजार 221 है जबकि आवेदन की अंतिम तिथि तक 17 हजार 194 विद्यार्थियों ने आवेदन किए हैं। प्रवेश क्षमता से 4 हजार आवेदन कम प्राप्त हुए हैं। इस वर्ष 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम बढऩे से इंजीनियरिंग में प्रवेश के लिए आवेदन बढऩे की उम्मीद थी, परंतु पिछले कुछ साल से विद्यार्थियों का इंजीनियरिंग के प्रति कम हुआ रुझान इस वर्ष भी नहीं बढ़ा। शनिवार 17 जून आवेदन जमा कराने की अंतिम तिथि थी। तिथि बढ़ाए जाने पर भी प्राप्त आवेदन और प्रवेश क्षमता के बीच सीटों का अंतर भरने की उम्मीद कम ही है। जिन विद्यार्थियों ने ऑनलाइन आवेदन किए हैं उनमें से भी प्रवेश लेने वालों की संख्या कम होने पर रिक्त सीटों का आंकड़ा और भी बढ़ सकता है। जिन विद्यार्थियों ने आवेदन भरा है उनका आईआईटी, एनआईटी की प्रक्रिया में शामिल होना अभी बाकी है। पसंदीदा कॉलेज और ब्रांच नहीं मिलने की वजह से भी अनेक विद्यार्थी प्रवेश छोड़ देते हैं। मतलब साफ है कि जितने आवेदन भरें गए हैं उतने भी विद्यार्थी प्रवेश लेंगे निश्चित नहीं है। सीटें रिक्त रहने से इंजीनियरिंग कॉलेजों की धड़कनें बढ़ गई हैं। उन्होंने अभी से मैनेजमेंट कोटा सरेंडर कर दिया है। फार्मेसी और होटल मैनेजमेंट के प्रवेश के लिए एक दिन तिथि बढ़ाकर 18 जून कर दी गई है। फार्मेसी में आवेदन की स्थिति सामान्य है। प्रवेश क्षमता के 3 गुणा यानी 3062 आवेदन प्राप्त हुए हैं। होटल मैनेजमेंट में 160 सीटों के लिए 192 आवेदन प्राप्त हुए हैं। आर्किटेक्टर के लिए 796 आवेदन मिले हैं।   

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned