हाउस फॉर ऑल को संजीवनी की दरकार

Akhilesh Thakur

Publish: Feb, 17 2017 12:30:00 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
हाउस फॉर ऑल को संजीवनी की दरकार

केंद्र और राज्य सरकार से नहीं आ रही किस्त, आयुक्त ने की 35 करोड़ रुपए लोन की पहल  

छिंदवाड़ा.  हाउस फॉर ऑल के निर्माण की गति पर फंड का असर दिखना शुरू हो गया है। निर्माणदायी कम्पनी ने निगम को पत्र लिखकर फंड न मिलने पर काम प्रभावित होने की बात से अवगत करा दिया है।


निगम आयुक्त ने उक्त  योजना प्रभावित न हो इसके  लिए 35 करोड़ रुपए लोन लेने के लिए  पहल शुरू कर दी है। इसको लेकर आयुक्त भोपाल में उच्चाधिकारियों से चर्चा व बैंक के अधिकारियों के साथ लगातार मीटिंग कर रहे हैं।  


हाउस फॉर आल के लिए केंद्र व राज्य सरकार से किस्त आने में विलम्ब हो  रहा है। निगम की हिस्सेदारी के लिए एलआईजी व एमआईजी मकान अब तक बुक नहीं हुए है। ईडब्ल्यूएस के 1131 मकानों में केवल 900 लोगों ने रुचि दिखाई है। साढ़े पांच लाख रुपए के ईडब्ल्यूएस मकान के लिए डेढ़ लाख रुपए केंद्र व डेढ़ लाख रुपए राज्य सरकार को देना है। शेष ढाई लाख में दो लाख हितग्राही और 50 हजार रुपए निगम चुकाएगी। इधर हाउस फॉर ऑल के आवास निर्माण शुरू होने के कुछ माह बाद केंद्र व राज्य सरकार से किस्त आने में विलम्ब होना शुरू हो गया है। निगम भी अपनी हिस्सेदारी देने मे सक्षम नहीं है।


नहीं मिल रहे खरीदार
निगम यह राशि चुकाने के लिए अलग से 264 एलआईजी और 144 एमआईजी मकान बना रही है। जबकि इसके खरीदार भी नहीं मिले हैं। 


दमुआ जाएंगे मजदूर
अभी एक हजार मजदूर यहां कार्य कर रहे हैं। निगम ने जल्द ही राशि का भुगतान नहीं किया तो यहां कार्य की गति धीमी कर दी जाएगी। यहां के मजदूरों को दमुआ में शुरू होने वाले दूसरे प्रोजेक्ट में कार्य करने भेजा जाएगा। फंड की वजह से कार्य पूरा करने में भी विलम्ब होगा।
उपेंद्र सिंह भदौरिया,
डायरेक्टर व चीफ प्रोजेक्ट आफिसर निर्माणदायी कम्पनी


जल्द करेंगे 35 करोड़ का भुगतान
हाउस फॉर आल में फंड की कमी नहीं आने दी जाएगी। जल्द ही निर्माणदायी कम्पनी को 35 करोड़ का भुगतान किया जाएगा। भोपाल में उच्चाधिकारियों से स्वीकृति के बाद उक्त  राशि के लिए लोन की पहल हो चुकी है। मकान निर्माण में कोई बाधा नहीं आएगी।
 इच्छित गढ़पाले, आयुक्त नगर पालिक निगम छिंदवाड़ा.  

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned