28 साल बाद विशेष है इस बार मकर संक्रांति

Prashant Sahare

Publish: Jan, 14 2017 01:26:00 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
28 साल बाद विशेष है इस बार मकर संक्रांति

मकर संक्रांति इस बार महायोग में है। भगवान सूर्य अपने पुत्र शनिदेव से मिलने उनके घर जाएंगे साथ ही मकर राशि में प्रवेश करेंगे।


छिंदवाड़ा . मकर संक्रांति इस बार महायोग में आ रही है। भगवान सूर्य अपने पुत्र शनिदेव से मिलने उनके घर जाएंगे साथ ही मकर राशि में प्रवेश करेंगे। शनिवार को देवालयों में विशेष पूजा-अर्चना की जाएगी। मंदिरों में विशेष कथाओं का आयोजन होगा। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार इस वर्ष जो महायोग बन रहा है वह 28 वर्ष बाद बना है इसलिए यह दिन पवित्र नदियों और तीर्थस्थलों में स्नान, ध्यान और दान के लिए विशेष है और इससे श्रेष्ठ लाभ भी मिलेेगा। ग्रह-नक्षत्रों की इसी गति के कारण शुक्रवार को भी पुष्य नक्षत्र के योग बने।
 आचार्य जितेंद्र दुबे ने बताया कि चंद्रमा कर्क राशि में प्रवेश करेगा। अश्लेशा नक्षत्र के साथ इस दिन प्रीति तथा मानस योग बन रहा है जो कि 28 साल बाद आ रहा है। इसलिए संक्रांति इस बार विशेष है। पूरे दिन पुण्य काल रहेगा। सूर्य और शनि का मिलन होने जा रहा है। शनिवार का दिन होने के कारण इसका महत्व और बढ़ गया है। उन्होंने  बताया कि सवार्थ सिद्वि और अमृत सिद्धि योग में विधि-विधान से पूजन अर्चन और अच्छे भाव के साथ दान कर पुण्य लाभ अर्जित किया जा सकता है।

अब जुलाई तक हैं विवाह मुहूर्त

ज्योतिषाचार्य पंडित दिनेश द्विवेदी ने बताया कि जनवरी के दूसरे पखवाड़े से जुलाई तक मांगलिक कार्य हो सकेंगे। मार्च को छोड़कर बाकी माह में विवाह के भी बहुत सारे मुहूर्त हंै। मार्च में सिर्फ एक दिन चार तारीख को विवाह हो सकेंगे। उन्होंने बताया कि जनवरी से जुलाई तक 37 तिथियां निकली हैं मांगलिक कार्यों की।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned