टीआई ने कहा मैं इस्तीफा दे सकता हूं

babanrao pathe

Publish: Jun, 20 2017 12:11:00 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
टीआई ने कहा मैं इस्तीफा दे सकता हूं

पिछले दो साल में जिले के भीतर महिला, नाबालिग और एससीएसटी एक्ट के अपराधों में बढ़ोतरी होना सामने आया

छिंदवाड़ा. पुलिस लाइन कंट्रोल रूम में सोमवार सुबह ग्यारह बजे से क्राइम मीटिंग शुरू हुई। मीटिंग में जिले के सभी एसडीओपी और थाना प्रभारी मौजूद थे। पिछले दो साल में जिले के भीतर महिला, नाबालिग और एससीएसटी एक्ट के अपराधों में बढ़ोतरी होना सामने आया। पुलिस जल्द ही जागरुकता अभियान चलाकर लोगों को इन अपराधों को अंजाम देने से बचने की सलाह देगी। आम लोगों को बताया जाएगा कि किसी भी तरह के बहकावे में आकर इस तरह के अपराधों को घटित न करें।


एसपी गौरव तिवारी ने मौजूद सभी एसडीओपी और टीआई को निर्देश दिए कि महिला, नाबालिग और एससीएसटी एक्ट के अपराधों में कमी लाए। पिछले दो साल में इस तरह के अपराधों में लगातार बढ़ोतरी हुई है। गम्भीर अनसुलझे प्रकरणों को सुलझाने के निर्देश दिए। अनसुलझे प्रकरणों को किस तरह सुलझाया जाए यह भी बताया। जुआ, सट्टा और अवैध शराब की बिक्री पर लगाम कसने के निर्देश दिए। मीटिंग के बीच में डीआईजी डॉ. जीके पाठक पहुंचे उन्होंने एनडीपीएस एक्ट के प्रकरण में जब्त की गई मादक सामग्री को नष्ट करने का तरीका बताया। इसके अलावा उन्होंने कार्रवाई के सम्बंध में भी सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को समझाया।


एसपी गौरव तिवारी ने बैठक के दौरान परासिया टीआई को संचालित गलत कामों को लेकर फटकार लगाई। टीआई ने कहा कि उनके यहां कोई गलत काम नहीं चल रहा है। इस दौरान टीआई ने कह दिया कि वह इस्तीफा देने को तैयार है। एसपी ने कहा इस्तीफा देने से कुछ नहीं होता काम करें और शिकायत न मिले  एेसा काम करें। बैठक सुबह 11 से 4.30 बजे तक चली, जिसमें अन्य अपराधों के निराकरण को लेकर भी चर्चा की गई। अवैध कारोबार पर लगाम लगाने के निर्देश सभी टीआई को दिए गए।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned