अध्यक्ष पद पर कौन कहां से लड़ सकता है..जानिए

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
अध्यक्ष पद पर कौन कहां से लड़ सकता है..जानिए

हर्रई की वर्तमान नगर पंचायत अध्यक्ष माधवी शाह या उनके परिवार के किसी सदस्य को इस बार चुनाव लडऩे का मौका नहीं मिलेगा। इस पर अन्य पिछड़ा वर्ग की महिला ही उम्मीदवार बनेगी।


छिंदवाड़ा. हर्रई की वर्तमान नगर पंचायत अध्यक्ष माधवी शाह या उनके परिवार के किसी सदस्य को इस बार चुनाव लडऩे का मौका नहीं मिलेगा। इस पर अन्य पिछड़ा वर्ग की महिला ही उम्मीदवार बनेगी। हां, सौंसर-पांढुर्ना की अध्यक्ष सीट अनारक्षित होने पर जरूर यहां वर्तमान अध्यक्ष अपनी दावेदारी पेश कर सकती है।

यह स्थिति छह नगरीय निकायों में पांच साल पुराने यानि वर्ष 2012 में हुए अध्यक्ष आरक्षण के चलते बनी है। यह आरक्षण रोस्टर का पालन इस साल जुलाई 2017 में होगा। इसका गजट नोटिफिकेशन भी उसी समय हो गया था। कलेक्ट्रेट में रखे इस नोटिफिकेशन को चुनाव के चलते हाल ही में निकाला गया। इस नोटिफिकेशन के आधार पर ही जून-जुलाई में अनुसूचित जाति बहुल छह नगरीय निकाय जुन्नारदेव, दमुआ, सौंसर, पांढुर्ना, हर्रई और मोहगांव में अध्यक्ष और पार्षद पद के वोट डाले जाएंगे। इसकी चुनाव आचार संहिता 15 दिन के भीतर जारी होने की संभावना है।

अध्यक्ष और पार्षद उम्मीदवारों की तलाश
कलेक्ट्रेट में हाल ही में पार्षद पद के आरक्षण के बाद इन छह निकायों के 111 वार्डों में एससी, एसटी, ओबीसी और सामान्य वर्ग के महिला-पुरुष वर्ग के उम्मीदवारों की तलाश तेज हो गई है। इसके लिए भाजपा-कांग्रेस की बूथलेवल कमेटियां अंदर ही अंदर सक्रिय हो गई है। कौन किस वार्ड से चुनाव लड़ेगा, स्थानीय कार्यकर्ताओं से इसकी सूची भी मांगी जा रही है। इधर, अध्यक्ष आरक्षण के हिसाब से क्षेत्रीय नेता टिकट के जुगाड़ में लग गए हैं। इसके लिए उन्हें भोपाल और दिल्ली के लिए भागदौड़ करनी होगी। राजनीतिक गलियारों में चल रही चर्चाओं के अनुसार चुनाव आचार संहिता लागू होने के बाद उम्मीदवारों की टिकट दावेदारी की प्रक्रिया तेज हो जाएगी।

निकायवार अध्यक्ष आरक्षण की स्थिति
निकाय           वर्तमान              इस पर होंगे चुनाव
दमुआ        एससी महिला          एससी मुक्त
जुन्नारदेव    सामान्य मुक्त        ओबीसी महिला
मोहगांव      ओबीसी मुक्त        ओबीसी महिला
हर्रई         एसटी महिला         ओबीसी महिला
पांढुर्ना      ओबीसी महिला        अनारक्षित
सौंसर       ओबीसी महिला        अनारक्षित
............

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned