छात्राओं को श्लोक सुनाकर प्रोफेसर ने बताया योग का महत्व,देखें वीडियो

ashish mishra

Publish: Jun, 20 2017 12:49:00 (IST)

Chhindwara, Madhya Pradesh, India
छात्राओं को श्लोक सुनाकर प्रोफेसर ने बताया योग का महत्व,देखें वीडियो

गल्र्स कॉलेज में सोमवार को योग के महत्व पर एक दिवसीय संगोष्ठी आयोजित की गई।


छिंदवाड़ा.  गल्र्स कॉलेज में सोमवार को योग के महत्व पर एक दिवसीय संगोष्ठी आयोजित की गई। प्रोफेसर डॉ. कामना वर्मा की अध्यक्षता में आयोजित संगोष्ठी में डॉ. अर्चना गौर ने आसन व 'नियमित योगाभ्यास से अनुशासन विषय पर सम्बोधित किया। उन्होंने शरीर को चुस्त रखने के लिए योग को अपनाने पर बल दिया।

डॉ. सिम्पल पाटिल ने योग के महत्व को समझाया। डॉ. अजय सिंह ठाकुर ने शारीरिक शिक्षा एवं योग के महत्व को प्रतिपादित किया। कार्यक्रम के समापन पर डॉ. श्रीपाद आरोणकर ने उपस्थित छात्राओं से प्रार्थना एवं सुभाषित श्लोकों का पाठ कराया। इस अवसर पर डॉ. पी श्रीवास्तव, डॉ. अजरा एजाज, डॉ. बिंदिया महोबिया, डॉ. सिम्पल पाटिल व काफी संख्या में छात्राएं मौजूद रहीं।


ब्रह्म समाज युवा प्रकोष्ठ की बैठक सम्पन्न
ब्रम्ह समाज युवा प्रकोष्ठ द्वारा बैठक का आयोजन परशुराम वाटिका में हुई । इसमें नौ  जुलाई को गुरुपूर्णिमा के अवसर पर 51 युवा ब्राह्मणों के सामूहिक जनेऊ संस्कार का निर्णय लिया गया। जनेऊ संस्कार के लिए न्यूनतम आयु सीमा 15 वर्ष रखी गई। कार्यक्रम का आयोजन श्री परशुराम वाटिका में दोपहर दो बजे से किया जाएगा। इसमें छिंदवाड़ा जिले के विप्रजन भाग लेंगे। बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि अपने घर के एवं रिश्तेदारों के जनेऊ संस्कार कराने के लिए पहले से नाम लिखवाना अनिवार्य होगा।

देखें वीडियो

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned