थंपी हो सकते हैं भारतीय तेज गेंदबाजी का भविष्य: ग्लेन मैक्ग्राथ 

Cricket
थंपी हो सकते हैं भारतीय तेज गेंदबाजी का भविष्य: ग्लेन मैक्ग्राथ 

तेज गेंदबाज बासिल थंपी ने गेंदबाजी में अपनी प्रतिभा से ग्लेन मैक्ग्राथ की तारीफ हासिल कर ली है। मैक्ग्राथ, थंपी की यॉर्कर डालने की क्षमता से खासे प्रभावित हुए हैं।

नई दिल्ली। क्रिकेट में तेज गेंदबाज बनने का सपना हो और करियर का शुरूआती दौर में ही आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज ग्लेन मैक्ग्राथ की तारीफ मिल जाए तो एक गेंदबाज के लिए यह उसके सपने का सच होने जैसा होगा। कुछ ऐसा ही हुआ है केरल के तेज गेंदबाज बासिल थंपी के साथ। थंपी ने गेंदबाजी में अपनी प्रतिभा से ग्लेन मैक्ग्राथ की तारीफ हासिल कर ली है। मैक्ग्राथ, थंपी की यॉर्कर डालने की क्षमता से खासे प्रभावित हुए हैं। बासिल थंपी ने आईपीएल में अपनी गेंदबाजी से सबको प्रभावित किया था।

basil thampi के लिए चित्र परिणाम

बेहतर हुआ पेस खेमा 
भारत में 140 किमी. की रफ्तार से गेंदबाजी करना काफी कठिन होता है। थंपी 140 किलोमीटर प्रति घंटा के आसपास की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं। थंपी ने इस साल गुजरात लायंस की तरफ से खेलते हुए अच्छा प्रदर्शन कर सबको प्रभावित किया था।


IIFA मेरे परिवार की तरह है: बोमन ईरानी, देखें वीडियो-


एमआरएफ पेस फाउंडेशन और क्रिकेट आस्ट्रेलिया की रजत जयंती समारोह में बोले मैक्ग्राथ 
एमआरएफ पेस फाउंडेशन में भारतीय तेज गेंदबाजों को तराश रहे मैक्ग्राथ ने कहा कि भले ही भारत में तेज गेंदबाजी करना काफी कठिन हो, लेकिन हाल के दिनों में युवा प्रतिभाशाली गेंदबाज बासिल थंपी को देखना अच्छा लगता है। मैक्ग्राथ ने एमआरएफ पेस फाउंडेशन और क्रिकेट आस्ट्रेलिया के जुड़ाव की रजत जयंती समारोह के मौके पर कहा कि पहले भारत की गेंदबाजी में तेजी नहीं होती थी। लेकिन अब स्थितियां बदली हैं। अब भारत के पास मजबूत गेंदबाजी आक्रमण है जो किसी भी टीम के 10 विकेट लेने में सक्षम है। भविष्य में थंपी जैसे गेंदबाजों के आने से भारतीय टीम को काफी फायदा होगा।

basil thampi के लिए चित्र परिणाम

भविष्य की दमदार कड़ी  
मैक्ग्राथ ने खुशी जाहिर करते हुए कहा वे बेहद खुश हैं कि एमआरएफ पेस फाउंडेशन के तीनों ट्रेनियों को दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए इंडिया-ए में चुना गया है। थंपी की प्रशंसा करते हुए कहा कि वह काफी अच्छा है। आईपीएल में इस साल थंपी को बेस्ट इमर्जिंग प्लयेर का पुरस्कार मिला है। मैक्‍ग्राथ ने थंपी के साथ दो अन्‍य तेज गेंदबाजों अंकित राजपूत और अनिकेत चौधरी की भी तारीफ की। 23 साल के थंपी ने अब तक 11 प्रथम श्रेणी मैच खेलकर 18 विकेट हासिल किए हैं। भारतीय टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले भी नाथू सिंह और बासिल थंपी की गेंदबाजी की प्रशंसा कर चुके हैं। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned