सचिन की किताब ने भी बनाया रेकॉर्ड

Cricket
सचिन की किताब ने भी बनाया रेकॉर्ड

सचिन की आत्मकथा ‘प्लेइंग इट माइ वे’ लॉन्च के पहले दिन ही फिक्शन और नॉन-फिक्शन श्रेणियों में सबसे अधिक बिकने वाली किताब रही। इससे वह लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी दर्ज हो गई है। गुरुवार को इसे आत्मकथा श्रेणी में रेमंड क्रॉसवर्ड पोपुलर अवॉर्ड से भी नवाजा गया।

नई दिल्ली। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंडुलकर की तरह उनकी किताब ‘प्लेइंग इट माइ वे’ भी रेकॉर्ड बनाने में पीछे नहीं रही। सचिन की आत्मकथा ‘प्लेइंग इट माइ वे’ लॉन्च के पहले दिन ही फिक्शन और नॉन-फिक्शन श्रेणियों में सबसे अधिक बिकने वाली किताब रही। इससे वह लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी दर्ज हो गई है। गुरुवार को इसे आत्मकथा श्रेणी में रेमंड क्रॉसवर्ड पोपुलर अवॉर्ड से भी नवाजा गया।

रेमंड क्रॉसवर्ड पोपुलर अवॉर्ड से नवाजे जाने के बाद सचिन ने अपने प्रशंसकों का शुक्रिया अदा किया। सचिन ने कहा कि मेरे क्रिकेट करियर के सफर का हिस्सा बनने के लिए मैं प्रशंसकों का पर्याप्त रूप से शुक्रिया अदा नहीं कर सकता। उनका समर्थन अतुलनीय है।‘प्लेइंग इट माइ वे’ में मेरे क्रिकेट करियर और इससे बाहर के जीवन का उल्लेख है।

इसके प्रकाशक हेचेते और सह-लेखक बोरिया मजूमदार का शुक्रिया अदा करते हुए सचिन ने कहा कि मैं इस बात को जानकार काफी खुश हूं कि इस किताब ने 14वें रेमंड क्रॉसवर्ड बुक अवार्ड्स समारोह में पॉपुलर च्वाइस अवॉर्ड जीता है। मैं अपने प्रकाशक हेचेते इंडिया और बोरिया को इस बेहतरीन कार्य के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं।



Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned