मारुती केस : 31 दोषियों मिलेगी सजा, ज़िंदा जलाकर मारने का आरोप 

Anuj Shukla

Publish: Mar, 16 2017 08:14:00 (IST)

Crime
मारुती केस : 31 दोषियों मिलेगी सजा, ज़िंदा जलाकर मारने का आरोप 

हरियाणा में आईएमटी मानेसर स्थित मारूति कम्पनी परिसर में 18 जुलाई 2012 को हुई हिंसा की घटना के मामले में अदालत शुक्रवार को 31 दोषियों को सजा सुनाएगी।

गुरुग्राम. हरियाणा में आईएमटी मानेसर स्थित मारूति कम्पनी परिसर में 18 जुलाई 2012 को हुई हिंसा की घटना के मामले में अदालत शुक्रवार को 31 दोषियों को सजा सुनाएगी। इससे पूर्व अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश आर.पी. गोयल की अदालत ने 10 मार्च को इस मामले में 31 आरोपियों को दोषी करार देते हुए इन्हें सजा सुनाने का फैसला 17 मार्च तक सुरक्षित रख लिया था। 117 आरोपियों को सबूतों के अभाव में बरी कर दिया था। 

दो लोगों को जला दिया था ज़िंदा 

कम्पनी के आईएमटी मानेसर स्थित संयंत्र में हुई कर्मचारी हिंसा में महाप्रबंधक अवनीश देव तथा एक दिव्यांग व्यक्ति को ज़िंदा जला दिया गया था। इस घटना के बाद कार्रवाई करते हुए कम्पनी प्रबंधन ने 525 श्रमिकों को नौकरी से बर्खास्त कर दिया था। इस बीच शुक्रवार को अदालत के फैसला सुनाए जाने के मद्देनजर स्थानीय प्रशासन ने पुलिस को हाई अलर्ट पर रखा है। किसी भी स्थिति पर काबू पाने के लिए छह ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए गए हैं। 

कंपनी के आस-पास कड़ी सुरक्षा 

मारुति के मानेसर संयंत्र में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है। शहर के अन्य इलाकों में भी पुलिस तैनात कर दी गई है। कम्पनी के संयंत्र के आसपास निषेधाज्ञा लागू कर दी गई है जिसके तहत वहां पांच से अधिक लोगों एकत्रित होने तथा धारदार अथवा अग्नेय अस्त्र लेकर चलने पर प्रतिबंध रहेगा। कानूनी विशेषज्ञों का कहना है कि इस मामले में दोषियों के खिलाफ जो धाराएं लगी हैं उनमें उन्हें सजा ए मौत या आजीवन कारावास हो सकता है। उनका कहना है इस घटना में कर्मचारियों ने जिस तरह से दो लोगों को ज़िंदा जलाया गया उसे अदालत ने गम्भीरता से लिया है। 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned