फैली थी बच्चा चोर की अफवाह, 24 घंटों में की 6 लोंगों की हत्या

NICS Team

Publish: May, 19 2017 02:48:00 (IST)

Crime
फैली थी बच्चा चोर की अफवाह, 24 घंटों में की 6 लोंगों की हत्या

झारखंड के जमशेदपुर जिले के कई क्षेत्रों में आज-कल बच्चा चोरी की अफवाह फैली है। इस अफवाह से हिंसक हुई भीड़ ने अबतक 6 लोगों की जान ले ली है। सभी मृतकों को बुरी तरह से पीट-पीट कर मार डाले जाने की सूचना मिली है। 

नई दिल्ली.  झारखंड के जमशेदपुर जिले के कई क्षेत्रों में आज-कल बच्चा चोरी की अफवाह फैली है। इस अफवाह से हिंसक हुई भीड़ ने अबतक 6 लोगों की जान ले ली है। सभी मृतकों को बुरी तरह से पीट-पीट कर मार डाले जाने की सूचना मिली है। हिंसक भीड़ ने पुलिस के साथ भी हाथापाई की। जिसस पुलिस के जवान भी घायल हो गए। क्षेत्र में पुलिस बलों की भारी तैनाती कर दी गई है। पुलिस स्थिति को भले ही नियंत्रण में बता रही हो, मगर हकीकत यह हैं कि स्थिति अब भी तनावपूर्ण बनी हुई है। पूरे मामले में अब तक पुलिस की ओर से किसी की गिरफ्तारी नहीं की गई है। 

क्या है मामला
जमशेदपुर के दो थाना राजनगर और बागबेड़ा में यह घटना घटी है। राजनगर में शुक्रवार की सुबह यह घटना घटी। जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई। जबकि बागबेड़ा में गुरूवार की रात को ही भीड़ हिंसक हो उठी थी। गुरूवार को हुई घटना में भी तीन लोगों के मारे जाने की खबर है।

राजनगर की घटना
बच्चा चोरी करनेवाले लोगों को छुपाने के आरोप में राजनगर के दर्जनों गांव के लोग एकजुट हो गए। गांव में एकसाथ आने के बाद लोंगों की भीड़ शोभापुर गांव पहुंची। जहां शुरू में लोगों ने शोभापुर के निवासियों से कथित बच्चा चोरों को सौंपने की मांग की। एक घंटे इंतजार करने पर भीड़ उग्र हो गयी और कई घरों पर हमला कर दिया। 
 
बागबेड़ा की घटना 
बागबेड़ा थाना क्षेत्र के नागाडीह क्षेत्र में बच्चा चोर के संदेह में ग्रामीणों ने गुरुवार रात तीन लोगों को पीट-पीट कर मार डाला। इस हमले में एक महिला भी घायल हो गई। बंधक बनाये लोगों को बचाने आयी पुलिस पर भी लगभग दो हजार ग्रामीणों ने पथराव कर दिया, जिसमें डीएसपी विमल कुमार व एक दर्जन जवान घायल हो गये।पथराव में डीएसपी की गाड़ी भी क्षतिग्रस्त हो गयी है।
पुलिस से छीन कर की पिटाई 
पुलिस का कड़ा रुख देखकर हजारों ग्रामीणों ने पुलिस पर हमला कर दिया। इसी दौरान भीड़ के भय से भागने के प्रयास में मो नईम लोगों के हत्थे चढ़ गया। ग्रामीणों ने लाठी-डंडों से उसकी पिटायी कर दी, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी। भीड़ ने गांव में उपद्रव जारी रखा। वे करीब तीन घंटे तक अल्पसंख्यकों के घरों में घुस-घुसकर तोड़फोड़ मचाते रहे। उनके सामानों को निकालकर आग लगा दी।

इनकी हुई हत्या 
- उत्तम वर्मा
- गंगेश गुप्ता
- एक अज्ञात
लापता
- शेख हलीम

राजनगर के शोभापुर में 
- मो नईम
- सेराज खान
- सज्जू

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned