अपने लोगों को ही असमय मौत के घाट उतार रहे हैं नक्सली

Ajay Shrivastava

Publish: Oct, 19 2016 10:51:00 (IST)

Jagdalpur
अपने लोगों को ही असमय मौत के घाट उतार रहे हैं नक्सली

हत्या कर बच्चों को अनाथ कर रहे हैं नक्सली, बंद होना चाहिए खून-खराबा, 7 नवंबर को राष्ट्रपति से सम्मानित होने वाली इंदु ने रूंधे गले से की अपील

दंतेवाड़ा. देश को सेप्टिक टैंक प्रेशर रिकार्ड स्केल का आइडिया देने वाली सातवीं कक्षा की छात्रा इंदु 7 नवंबर को राष्ट्रपति के हाथों सम्मानित होगी।

इस सम्मान को लेकर जहां वह अभिभूत है वहीं क्षेत्र में नक्सली की समस्या को लेकर गंभीर भी। वर्ष 2005 में अनाथ हुई इंदु आंखों में आंसू लिए नक्सलियों से कहती है कि क्यों खून-खराबा कर रहे हैं।

अपनों के बीच रहकर अपनों का ही खून बहाना क्रांति नहीं है। निर्दोष लोगों को मारकर नक्सली मासूम बच्चों को अनाथ, पत्नियों को विधवा बना रहे हैं तो बुर्जुगों का सहारा छिन रहे हैं। इंदु ने रूंदे गले से नक्सलियों से अपील की है कि वे मार-काट छोड़कर अंचल में शांति का  माहौल बनाए।

देश भर में जिले का नाम रोशन करने वाली आस्था विद्या मंदिर जावंगा की छात्रा इंदु मानिकपुरी 7 नवंबर को राष्ट्रपति डॉ. प्रणब मुखर्जी के हाथों सम्मानित होंगी। कक्षा सातवीं की छात्रा इंदु ने सेप्टिक टैंक प्रेशर रिकार्ड स्केल का आइडिया दिया है।

एजुकेशन सिटी की छात्रा है इंदु
राष्ट्रपति से सम्मान प्राप्त करने वाली इंदु ने छोटी सी जीवन में ही कठिन संघर्ष किया है। इनके पिता मरईगुडा में थाना निर्माण कर रहे थे जहां नक्सलियों ने इनके पिता की हत्या कर दी। इंदु की मां कल्याणी मानिकपुरी ने इंदु परवरिश की। मां 2006 से 2011 तक वो केरलापाल आंगनबाड़ी में काम करती रहीं।

इसके बाद वह इंदु का चयन एजुकेशन सिटी के आस्था विद्या मंदिर में चयन हुआ। अब उसकी मां भी इसी स्कूल में कार्य कर रही है। इस इंदु को प्रधानमंत्री का आशीर्वाद मिला वहीं मानव संसाधन मंत्री रही स्मृति इरानी ने अपने फेसबुक वाल पर बस्तर की प्रतिभा से नवाजा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned