कई इलाकों में हैंडपंपों ने छोड़ा साथ, जल स्तर नीचे गिरा

Datia, Madhya Pradesh, India
कई इलाकों में हैंडपंपों ने छोड़ा साथ, जल स्तर नीचे गिरा

गर्मी के साथ पेयजल संकट से भी लोग जूझ रहे हैं।

दतिया. जिले में गर्मी पूरे शबाब पर है। गर्मी के साथ पेयजल संकट से भी लोग जूझ रहे हैं। पेयजल की सबसे ज्यादा समस्या उन ग्रामीण क्षेत्रों में हैं जहां नल-जल योजनाएं चालू नहीं हैं और हैंडपंप भी जल स्तर नीचे चले जाने की बजह से बंद हो गए हैं। नल-जल योजना चालू न होने तथा हैंडपंप बंद हो जाने की बजह से ग्रामीणों को खेतों के कुओं से पानी लाकर अपना काम चलाना पड़ रहा है। ग्रामीण क्षेत्रों में पानी के लिए सुबह से ही जद्दोजहद शुरू हो जाती है। बूढ़े, बच्चे और जवान सभी को इस भीषण गर्मी में पानी ढोना पड़ रहा है।

ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि ग्राम जिगना में कुल १५ हैंडपंप लगे हैं। इन हैंडपंपों में से वर्तमान में ११ हैंडपंप बंद हो गए हैं। सिर्फ चार हैंडपंपों के सहारे ग्रामीणों को अपना काम चलाना पड़ रहा है। गांव की नल-जल योजना पहले से ही बंद है।

दोपहर में भरना पड़ रहा पानी

भांडेर। भांडेर के वार्ड क्रमांक 13 में गर्मी की बजह से लोगों को पेयजल संकट का सामना करना पड़ रहा है। स्थिति यह है कि वार्ड के लोग भरी दोपहरी में भी हैंडंपंप से पानी भरते हैं। वार्ड क्रमांक 13 निवासी सरबरी ने बताया कि दोपहर में धूप के कारण लोग पानी भरने कम निकलते हैं इस बजह से हैंडपंप पर भीड़ कम रहने के कारण वह दोपहर में पानी भरती है।


जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में कुछ हैंडपंप ऐसे हैं जो बरसात में चालू रहते हैं। कुछ जल स्तर नीचे चले जाने की बजह से बंद हो गए हैं। जो जल स्तर नीचे चले जाने की बजह से बंद हो गए हैं उनमें छड़ डलवा रहे हैं ताकि वह चालू हो सकें


राजेश श्रीवास्तव, ई ई पीएचई


Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned