मोदी पर बरसा विपक्ष, कहा बापू की जगह लेना चाहते हैं पीएम

Shankar Sharma

Publish: Jan, 13 2017 11:13:00 (IST)

New Delhi, Delhi, India
मोदी पर बरसा विपक्ष, कहा बापू की जगह लेना चाहते हैं पीएम

खादी ग्रामोद्योग आयोग के कैलेंडर और डायरी पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जगह पीएम की तस्वीर पर विपक्ष सहित सोशल मीडिया के निशाने पर केंद्र सरकार आ गई है। इन पर केवीआईसी ने जवाब दिया है

नई दिल्ली. खादी ग्रामोद्योग आयोग के कैलेंडर और डायरी पर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जगह पीएम की तस्वीर पर विपक्ष सहित सोशल मीडिया के निशाने पर केंद्र सरकार आ गई है। इन पर केवीआईसी ने जवाब दिया है।

उसने इस मामले पर हो रही राजनीति को आधारहीन और बेबुनियाद बताया है। केवीआईसी ने बताया कि इससे पहले भी कई बार केवीआईसी के सामानों पर बापू की तस्वीर नहीं थी। उन्होंने कहा कि साल 1996 , 2005, 2011, 2013 और 2016  में भी आयोग के कैलेंडर और डायरी पर महात्मा गांधी की तस्वीर नहीं लगाई गई थी। उन्होंने कहा कि ऐसा कोई नियम नहीं है कि कैलेंडर पर बापू की तस्वीर होनी ही चाहिए। यह कहना गलत होगा कि बापू की तस्वीर को पीएम मोदी ने रिप्लेस कर दिया है।

पहले आम लोगों की फोटो लगी
कांग्रेस के प्रवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बापू की जगह लेने की कोशिश में हैं। जहां तक आयोग द्वारा
सफाई दी गई है तो वास्तविकता ये है कि तब आम आदमी फोटो लगती थी, किसी प्रधानमंत्री का नहीं।

अक्षम संस्था भंग हो
महात्मा गांधी के पड़पोते तुषार गांधी ने कहा कि बापू की तस्वीर हटाने के पीछे केंद्र सरकार की सोची समझी रणनीति है, सरकार को गलतियां करने की आदत हो गई है,  यह गलती नहीं लगती। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी से अपील करते हुए कहा कि वह केवीआईसी को भंग करें, क्योंकि यह अयोग्य-अक्षम संस्था है।
राष्ट्रपिता की जगह कोई नहीं ले सकता
शुक्रवार को केंद्र सरकार ने इस बारे में सफाई देते हुए कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जगह कोई नहीं ले सकता। केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र ने कहा कि मैंने कैलेंडर नहीं देखा है। कैलेंडर पूरे 12 महीने का है और सिर्फ एक ही पेज पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का फोटो है। मिश्र ने कहा कि इसका मतलब यह नहीं है कि मोदी ने बापू की जगह ले ली है।

किसने क्या  कहा
दुर्भाग्यपूर्ण है। गांधी जी की जगह कोई नहीं ले सकता।  
सीतराम येचुरी, माकपा महासचिव

मेर अनुसार यह एक 'घटिया' हरकत है।
गुरुदास दासगुप्ता, भाकपा नेता

गांधीजी देश के राष्ट्रपिता हैं। मोदी जी क्या हैं?
ममता बनर्जी, सीएम, प. बंगाल

कड़ी निंदा करते हैं। महात्मा, राष्ट्रनायक का अपमान है।   
केसी त्यागी, जद (यू) प्रवक्ता

गांधी बनने के लिए वर्षों तपस्या करनी पड़ती है। केवल चरखा चलाकर कोई गांधी नहीं बन सकता, लोग केवल इसकी हंसी उड़ाएंगे। अरविंद केजरीवाल, मुख्यमंत्री, दिल्ली

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned