खुलासा:  सरकारी गोदामों से राशन की कालाबाजारी, दो मार्केटिंग इंस्पेक्टर निलंबित

Deoria, Uttar Pradesh, India
खुलासा:  सरकारी गोदामों से राशन की कालाबाजारी, दो मार्केटिंग इंस्पेक्टर निलंबित

डिप्टी आरएमओ के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के आदेश

देवरिया. प्रदेश में नयी सरकार में आने के बाद भी राशन बिचौलियों पर अंकुश लगना सम्भव नही लग रहा है । विभागीय अधिकारियों के साथ हर महीने पीडीएस का राशन सरकारी गोदामो से कैसे गायब होता है इसका प्रमाण आज जिले में देखने को मिला । जिले में गरीबों के राशन की कालाबाजारी किए जाने का बड़ा मामला सामने आया है । जिलाधिकारी द्वारा मामले में सीधे हस्तक्षेप के बाद दो मार्केटिंग इंस्पेक्टरों को निलंबित करने के साथ ही डिप्टी आरएमओ के खिलाफ विभागीय कार्यवाही के आदेश दिए गए हैं । 



जिलाधिकारी अबरार अहमद की जांच रिपोर्ट पर खाद्य आयुक्त ने गुरुवार को यह कार्रवाई की। बताते चलें कि देवरिया के जिलाधिकारी अबरार अहमद को 17 अप्रैल की दोपहर में सूचना मिली थी कि बैतालपुर हाट शाखा गोदाम से 4 हजार बोरी पीडीएस के राशन गायब कर दिया गया है। डीएम ने इस सूचना पर तत्काल एक टीम बनकार जिले के सभी हाट शाखा के गोदामों का स्टाक सत्यापन कराया। 




सूत्रों की माने तो उप जिलाधिकारी सदर प्रणय सिंह के नेतृत्व में टीम बैतालपुर हाट शाखा के गोदाम का स्टाक जांच करने पहुंची। जांच में 1205 बोरी गेहूं, 1031 बोरी चावल तथा 2 बोरी चीनी का स्टाक कम मिला। अप्रैल में मिले राशन का कोई ब्योरा स्टाक रजिस्टर में दर्ज नहीं था। मार्केटिंग इंसपेक्टर ने बताया कि प्रेषण प्रभारी कृष्ण सहाय पाठक के पास सेंटरों को भेजे गए राशन का ब्योरा है। पता चला है कि बार-बार बुलाने के बाद भी पाठक टीम के सामने नहीं पहुंचे। 



बाद में डिप्टी आरएमओ ने बताया कि बैतालपुर सेंटर को 3819 बोरी गेहूं, 2135 बोरी चावल और 208 बोरी चीनी आवंटित की गई थी। जांच में बैतालपुर हाट शाखा में 2238 बोरी यानि लभगग 22 लाख का खाद्यान कम मिला। डीएम की रिपोर्ट पर खाद्य आयुक्त अजय सिंह चौहान ने गुरुवार को बैतालपुर के एमआई अशोक कुमार मेहता , तरकुलवा के एमआई और गोदाम के प्रेषण प्रभारी कृष्ण सहाय पाठक को सस्पेंड कर दिया।




 उन्होंने जिला खाद्य विपणन अधिकारी संजीव कुमार सिंह को भी इसके लिए जिम्मेदार मानते हुए विभागीय जांच का आदेश दे दिया है । इस कार्यवाही के बाद विभाग में हड़कम्प की स्थिति देखी जा रही है ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned