बीमारी से लाचार छात्र ने की इच्छा मृत्यु  

Deoria, Uttar Pradesh, India
बीमारी से लाचार छात्र ने की इच्छा मृत्यु  

इलाज करवाने के लिए नहीं हैं पैसे...

देवरिया. जिले के खुखुंदू थाना क्षेत्र के शेरवा बभनौली निवासी गणेश तिवारी (19) पुत्र श्री देवनाथ तिवारी ने धन के अभाव में इलाज न होने के चलते राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की गुहार लगाई है।

गणेश ने राष्ट्रपति को संबोधित पत्र में लिखा है कि मुझे इंटरमीडिएट पढ़ाई के दौरान 17 नवंबर 2015 को एक दिन अचानक कमर में दर्द हुआ। स्थानीय इलाज कराने के बाद अगले दिन मेरे शरीर के नीचे का अंग काम करना बंद कर दिया। स्थानीय डॉक्टरों के रेफर करने के बाद बीएचयू बनारस गए जहां इलाज कराया। इलाज में लगभग दो लाख रुपए तक खर्च हो चुका है। 

घर के गहने तक बिक गए हैं, इलाज से पूरा परिवार कंगाल हो गया है। अब कोई कर्ज देने को भी तैयार नहीं है। पैसे के अभाव में कुछ माह से मेरा इलाज बंद हो गया है। इलाज के खर्च के चलते एक भाई और तीन बहनों की पढ़ाई तक रुक गई है। अपने माता-पिता की आंखों के सामने मैं 16 माह से बिस्तर पर पड़ा हूं। इलाज के लिए कई जगहों से गुहार लगा-लगा कर थक चुके गणेश ने ऐसे में तिल-तिल कर मरने से बजाए राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु की अनुमति मांग की है।                  

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned