आज से पांच साल पुरानी कीमत पर मिल रही हैं प्रॉपर्टी, अगले साल तक हो सकती हैं फिर महंगी

Sunil Sharma

Publish: Jul, 31 2017 12:24:00 (IST)

Developing Area
आज से पांच साल पुरानी कीमत पर मिल रही हैं प्रॉपर्टी, अगले साल तक हो सकती हैं फिर महंगी

जीएसटी का रियल एस्टेट बाजार पर भी सकारात्मक असर दिखना शुरू हो गया है

नई दिल्ली। जीएसटी लागू हो चुका है और रियल एस्टेट बाजार पर भी इसका सकारात्मक असर दिखना शुरू हो गया है। टैक्स में स्पष्टता और पारदर्शिता आने के साथ ही घर खरीदारों के लिए भी अब परिस्थितियां आसान हो गई हैं। होम बायर्स के लिए अपने घर का सपना सच करने का यह सबसे माकूल समय है।

ऐसा इसलिए कि इस समय फ्लैट के दाम वर्ष 2012 के स्तर पर ही बने हुए हैं। मुद्रास्फीती को न्यूनतम 10 फीसदी भी आधार के तौर पर मान लिया जाए तो फ्लैट्स 2012 के मुकाबले आधी कीमत यानि 50 फीसदी छूट पर मिल रहे हैं। मुद्रास्फीती के नियमों के अनुसार रुपए की कीमत हर साल 8 से 10 फीसदी महंगाई दर के अनुसार कम होती है।

सस्ती हुई ईएमआई
अभी हर महीने कम होती ईएमआई भी एक और आकर्षण है जो कि अपने घर का सपना साकार करने के लिए लोगों को आमंत्रित कर रहा है। एक समय में प्रति लाख होम लोन की ईएमआई 1100 रुपए मासिक से ऊपर थी जो कि अब 900 रुपए के वर्ग में आ गई है। बैंकों के पास जिस तरह से फंड्स मौजूद हैं, उसको देखते हुए ये स्पष्ट है कि आने वाले महीनों में होम लोन की ईएमआई और कम होगी।

कस्टमर इज किंग
हाल में सरकार की ओर से उठाए गए कदमों का फायदा अब होम बायर्स को मिल रहा है क्योंकि प्रतिस्पर्धा के चलते कोई भी डेवलपर इन सभी राहतों को अपने लाभ में शामिल नहीं कर सकता है। क्योंकि कस्टमर इज किंग, की कहावत रियल एस्टेट सेक्टर पर भी समान तौर पर लागू होती है। ऐसे में होब बायर्स के लिए घर खरीदने का यह सबसे सुनहरा मौका है। वे कम बजट में अच्छा घर खरीद सकते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned