केपी व साइंस कॉलेज केगेट पर जड़े ताले

Dewas, Madhya Pradesh, India
 केपी व साइंस कॉलेज केगेट पर जड़े ताले

एनएसयूआई का प्रदर्शन, स्टाफ को नहीं करने दिया गया प्रवेश,  पुलिस बल पहुंचा

देवास. परीक्षा फॉर्म जमा करने संबंधी लिंक बंद होने के विरोध में मंगलवार सुबह एनएसयूआई ने केपी कॉलेज व साइंस कॉलेज बंद करवा दिया।कॉलेजों के प्रवेश द्वारों पर ताले जड़ दिए गए। कॉलेज स्टॉफ को अंदर प्रवेश नहीं करने दिया गया।सूचना मिलने पर पुलिस बल व तहसीलदार मौके पर पहुंचे और समझाइश देकर कॉलेज खुलवाए।इसके बाद पदाधिकारी व विद्यार्थी जनसुनवाई में पहुंचे और कलेक्टर से चर्चा की, हालांकि यहां से भी कोई हल नहीं निकल सका।
सुबह करीब 9 बजे कार्यकर्ता कॉलेजों के प्रवेश द्वार के सामने एकत्रित हुए और नारेबाजी करते हुए अंदर के कक्षों, कार्यालयोंं को बंद करते हुए मुख्य द्वार पर ताला लगा दिया। कॉलेज आने वाले प्रोफेसर्स को अंदर नहीं जाने दिया गया।सूचना मिलने पर तहसीलदार नरेंद्र यादव, कोतवाली टीआई राजीवसिंह भदौरिया मौके पर पहुंचे और विद्यार्थियों से चर्चा की। करीब दो घंटे तक कॉलेजों का कामकाज बंद रहा। छात्र नेताओं ने स्वयं व प्राचार्यों के माध्यम से विक्रम विवि में जिम्मेदारों से मोबाइल पर चर्चा की लेकिन कोई हल नहीं निकल सका। इसके बाद कॉलेजों से पदाधिकारी जनसुनवाई में मल्हार स्मृति मंदिर पहुंचे। यहां भी लिंक नहीं खुलने से विद्यार्थियों को आ रही दिक्कतों से अवगत कराया गया। एनएसयूआई जिलाध्यक्ष हर्ष प्रतापसिंह गौड़ ने बताया 100 से अधिक विद्यार्थी ऐसे हैं, जिनके परीक्षा फॉर्म जमा नहीं हो सके हैं। स्थानीय अफसर उनके हाथ में मामला नहीं होने की बात करके जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ रहे हैं।हमने जिम्मेदारों से मांग की है कि लिंक शुरू नहीं हो सकती, तो कम से कम परीक्षा फॉर्म नहीं भर पाने वालों को परीक्षा में बैठने की अनुमति तो दी जाए, ताकि उनका साल न बिगड़े। कॉलेज बंद कराने वालों में पूर्व जिलाध्यक्ष जितेंद्रसिंह गौड़, श्रीकांत चौहान, वीरेंद्र पटेल, धन सिंह, अजयसिंह गौड़, शाहिद शेख, शाहरुख शेख, धर्मेंद्र पोरवाल, यशवंत कुशवाह आदि शामिल थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned