गुस्से में कलेक्टर को ये क्या बोल गई महिला सरपंच, मचा हड़कंप

Chandu Nirmalkar

Publish: Jun, 20 2017 07:02:00 (IST)

Dhamtari, Chhattisgarh, India
गुस्से में कलेक्टर को ये क्या बोल गई महिला सरपंच, मचा हड़कंप

जनदर्शन में उस समय हड़कंप मच गया, जब एक पूर्व महिला सरपंच ने अपर कलक्टर को आवेदन देकर इच्छा मृत्यु की मांग की

धमतरी. जनदर्शन में उस समय हड़कंप मच गया, जब एक पूर्व महिला सरपंच ने अपर कलक्टर को आवेदन देकर इच्छा मृत्यु की मांग की। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों ने उन्हें लोकतांत्रिक ढंग से चुनकर सरपंच बनाया था। ईमानदारी से वह काम भी कर रही थी, लेकिन कुछ पंचों की स्वार्थपूर्ति नहीं होने से उन्हे बलि का बकरा दिया गया। अविश्वास प्रस्ताव लाकर हटाने के बाद भी उन्हें प्रताडि़त किया जा रहा है।

यह मामला मगरलोड ब्लाक  के ग्राम गिरौद का है। अपने पति और दो बच्चों के साथ जनदर्शन में पहुंची पूर्व सरपंच नर्मदा बाई नागरची ने बताया कि उसे दलगत राजनीति का शिकार बना दिया गया। गांव की जनता ने उन्हें जीताकर सरपंच बनाया था, लेकिन कुछ पंचों को यह रास नहीं आया। गांव के विकास के लिए उन्होंने हरसंभव प्रयास किया। यहां विकास के अनेक कार्य भी हुए। इसके बावजूद मनमानी का आरोप लगाते हुए अविश्वास प्रस्ताव लाकर हटा दिया गया।

उन्होंने आगे बताया कि जो आरोप लगाकर उन्हें पद से हटाया गया है, उसकी जांच अब तक नहीं हो सकी है। इसके लिए वह बार-बार जनपद और एसडीएम कुरूद से गुहार लगा चुकी हैं, लेकिन जांच के लिए वे गंभीरता ही नहीं दिखा रहे है। ऐसी स्थिति में अविश्वास प्रस्ताव का यह खेल महज एक गरीब अनुसूचित जनजाति की महिला को प्रताडि़त करने के अलावा और क्या हो सकता है। उन्होंने मांग की है कि लगाए गए आरोपों की निष्पक्ष जांच की जाए या फिर उन्हें परिवार समेत इच्छा मृत्यु की अनुमति दी जाए।

इस शिकायत को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच की जाएगी। निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया जाएगा। प्रताडि़त करने वाले जनप्रतिनिधियों के  खलाफ कार्रवाई की जाएगी।
केआर ओगरे, अपर कलक्टर

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned