ट्रिपल मर्डर मिस्ट्री: हत्यारों तक पहुंचे के लिए पुलिस ने अपनाई ये ट्रिक

Ashish Gupta

Publish: Jul, 17 2017 05:53:00 (IST)

Dhamtari, Chhattisgarh, India
ट्रिपल मर्डर मिस्ट्री: हत्यारों तक पहुंचे के लिए पुलिस ने अपनाई ये ट्रिक

तिहरे हत्याकांड को लेकर पुलिस को अभी तक कोई भी ऐसा महत्वपूर्ण सुराग हाथ में नहीं लगा है, जिसके सहारे वह हमलावरों तक पहुंच सके।

धमतरी. तिहरे हत्याकांड को लेकर पुलिस को अभी तक कोई भी ऐसा महत्वपूर्ण सुराग हाथ में नहीं लगा है, जिसके सहारे वह हमलावरों तक पहुंच सके। शायद यही कारण है कि एसपी ने अब इस घटना में हत्यारों के बारे में युक्तियुक्त सूचना देने या गिरफ्तार कराने पर 10 हजार रुपए का ईनाम देने की घोषणा की है।

Read More: आधी रात खेला खूनी खेल, पति-पत्नी और 12 साल के मासूम को दी दर्दनाक मौत

गौरतलब है कि पिछले 12 जुलाई को धमतरी शहर से लगे ग्राम तेलीनसत्ती में महेंद्र सिन्हा, उषा सिन्हा और उसके पुत्र त्रिलोक कुमार की नृशंसता पूर्वक हत्या कर दी गई थी। एसपी मनीष शर्मा समेत पुलिस के अन्य अधिकारी भी लगातार जांच पड़ताल कर रहे हैं। इसके बावजूद भी अभी तक हमलावरों के बारे में कोई पता नहीं चला है।

Read More: ट्रिपल मर्डर मिस्ट्री: होश में आते ही चश्मदीद ने रिश्तेदारों की ओर किया इशारा

पुलिस को पूर्व में संदेह था कि यह कोई जमीन संबंधित मामला होगा। पारिवारिक रंजिश के चलते इस घटना को अंजाम दिया गया है। शायद यही कारण है कि मृतक के भाई समेत कुछ रिश्तेदारों को लेकर पूछताछ की गई थी, लेकिन कोई जानकारी नहीं मिली। अब पुलिस ने अपनी जांच का दायरा बढ़ा दिया है। एसपी मनीष शर्मा ने बताया कि छत्तीसगढ़ पुलिस रेग्युलेशन में निहित प्रावधान के तहत हमलावरों के बारे में सूचना देने वाले को 10 हजार नगद राशि इनाम स्वरूप दी जाएगी।

Read More: खून से सने हथौड़ी से खुलेगा ट्रिपल मर्डर केस का राज, बढ़ई से की पूछताछ

दिया आश्वासन
उधर सिन्हा समाज के प्रतिनिधि मंडल ने एएसपी केपी चंदेल से मुलाकात कर बताया कि महेन्द्र सिन्हा और उनके परिवार के सदस्यों की नृशंस हत्या से समाज में आक्रोश है। जल्द से जल्द उनके हमलावरों को गिरफ्तार किया जाए। इस पर उन्होंने आश्वस्त किया है कि पुलिस सक्रियता के साथ जांच-पड़ताल में जुटी हुई है। प्रतिनिध मंडल में कालीदास सिन्हा, प्रेम मगेन्द्र, श्यामसुंदर सिन्हा, टिकेन्द्र गजेन्द्र, प्रकाश सिन्हा, डोमार सिन्हा मौजूद थे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned