गंगरेल डैम पर शूट इस वीडियो ने यू ट्यूब पर मचाई धूम, जानिए क्या है खास

Dhamtari, Chhattisgarh, India
गंगरेल डैम पर शूट इस वीडियो ने यू ट्यूब पर मचाई धूम, जानिए क्या है खास

ट्रेवल डॉक्यूमेंटरी गंगरेल अक्रॉस दि महानदी रिसर्व इन दिनों यू-ट्यूब में प्रकृति प्रेमियों को काफी रोमांचित कर रही है।

धमतरी. शहर के युवा और प्रतिभाशाली कलाकार अमीर हाशमी द्वारा निर्मित ट्रेवल डॉक्यूमेंटरी गंगरेल अक्रॉस दि महानदी रिसर्व इन दिनों यू-ट्यूब में प्रकृति प्रेमियों को काफी रोमांचित कर रही है। बताया गया है कि यह वीडियो वायरल होने के बाद अब तक इसे 13 हजार से अधिक लोगों ने देख लिया है। यू-ट्यूब एनालिस्टिक रिपोर्ट के अनुसार भारत के साथ-साथ स्विट्जरलैंड, अमेरिका तथा ब्रिटेन जैसे देशों के लोगों ने इस फिल्म को देखा है।

लगभग 3 महीनों में अलग-अलग समय पर शूटिंग व एडिट करके बनी इस ट्रेवल डॉक्यूमेंट्री फिल्म की सिनमेटोग्राफी व डॉयरेक्शन अमीर हाशमी ने किया है। यह एक साइलेंट फिल्म है, जिसमें शांत-चित्त घूमते हुये उन्होंने गंगरेल की सुंदरता को बड़ी खूबसूरती से फिल्माया है। उल्लेखनीय है कि हाशमी एक फिल्ममेकर होने के साथ-साथ पर्यटन में भी लंबा अनुभव रखते है।

उनका कहना है कि दुनियां भर के पर्यटकों का भारत के बांधों को लेकर विशेष आकर्षण रहता है। चाहे केरल का चेरुथोनी बांध हो या मध्य प्रदेश का इंदिरा सागर बांध। कर्नाटक के कृष्णराजस्मार बांध से लेकर तमिलनाडु के मेट्टूर बांध व राजस्थान के बिस्लपुर बांध में पर्यटकों की रूचि है। गंगरेल बांध भी उसी तरह एक बेहद ख़ूबसूरत और आकर्षक बांध है, जहां पर्यटन की असीम सम्भावनाएं है।

हाशमी ने बताया कि आने वाले दिनों में वह इस ट्रेवल डॉक्यूमेंट्री फिल्म का प्रमोशन स्कूल और कॉलेज जाकर करेंगे और ख़ासकर युवाओं से छत्तीसगढ़ माटी के पुत्र होने के नाते अपील करेंगे कि छत्तीसगढ़ की संस्कृति के इस महान धरोहर महानदी और गंगरेल को यू-ट्यूब पर जरूर देखें तथा शेयर करे।

मिला राष्ट्रीय सम्मान
अमीर हाशमी के नाम के चर्चे अब सब तरफ होने लगे हैं। पिछले दिनों उन्हें स्वच्छ भारत मिशन पर आधारित शॉर्ट फिल्म मिरिर ऑफ -दि-क्लीन-इंडिया के लिए नेशनल फिल्म डेवलेपमेंट कॉर्पोरेशन और सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय सम्मान प्राप्त हुआ है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned