उपद्रव के खिलाफ सीएम को आजसू अध्यक्ष का खुला पत्र

Shribabu Gupta

Publish: Aug, 08 2016 08:49:00 (IST)

Dumka, Jharkhand, India
उपद्रव के खिलाफ सीएम को आजसू अध्यक्ष का खुला पत्र

राज्य सरकार के प्रत्येक निर्णयों पर पैनी नजर रखने का एहसास कराते हुए आजसू अध्यक्ष सुदेश महतो ने मुख्यमंत्री के नाम खुला पत्र जारी किया है...

दुमका। राज्य सरकार के प्रत्येक निर्णयों पर पैनी नजर रखने का एहसास कराते हुए सरकार की सहयोगी आजसू पार्टी के अध्यक्ष सुदेश महतो ने मुख्यमंत्री के नाम खुला पत्र जारी किया है। साथ ही कहा कि झारखंड फिर से सुलग रहा है। हम आज वहां खड़े हैं, जहां से आगे का रास्ता बंद है। आगे का रास्ता बनाने के लिए हम सिर पर कफन बांध फिर से सड़क पर उतरने को तैयार है।

गौरतलब हो कि सरकार ने हाल में तीन बड़े फैसले लिए हैं। इसमें स्थानीय नीति की घोषणा, अनुसूचित क्षेत्रों में जिला स्तरीय नियुक्तियों में स्थानीय को आरक्षण और सीएनटी-एसपीटी एक्ट में संशोधन का अध्यादेश, सरकार की स्थानीय नीति से आदिवासी, मूलवासी, दलित और पिछड़े वर्ग के युवाओं पर संकट के बादल हैं।

सीएनटी-एसपीटी एक्ट में संशोधन आदिवासियों के सामने संकट है। सरकार के निर्णय से आदिवासी-मूलवासी आक्रोशित है। सुदेश ने लिखा है कि सरकार के निर्णय युवाओं के अरमान के साथ मजाक है। भविष्य के साथ खिलवाड़ है। संस्कृति और पहचान पर आक्रमण है। हमें मर-मिटने की चुनौती देता है। सरकार के निर्णय हमारे अस्तित्व को चुनौती देता है।

आजसू पार्टी निर्मल महतो के शहादत दिवस पर 8 अगस्त से जन की बात अभियान शुरु किया गया है। स्थानीयता पर जनता की राय  जानेगी। अभियान तीन चरणों में होगा।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned