प्रश्न पत्र मे पूछा, आग लगने पर किसे बचाओेगे? मां या गर्लफ्रेड

Jameel Khan

Publish: Sep, 30 2015 07:39:00 (IST)

Dunia Ajab Gajab
प्रश्न पत्र मे पूछा, आग लगने पर किसे बचाओेगे? मां या 
गर्लफ्रेड

चीन में कानून के मुताबिक, गर्लफ्रेड की बजाए बेटे के लिए जरूरी है कि वह पहले अपनी मां को बचाए

बीजिंग। चीन में हजारों ट्रेनी वकीलों और न्यायाधीशों के लिए आयोजित परीक्षा में एक अजीब सा सवाल यह जानने के लिए पूछा गया था की ये लोग वकालत करने के लिए काबिल हैं या नहीं। नेशनल न्यायिक परीक्षा में पूछा गया कि आग लगने पर किसे बचाओगे? अपनी मां या फिर गर्लफ्रेंड को।

हालांकि, सवाल था कि कोई व्यक्ति अपनी मां को बचा सकता है, लेकिन इसके बदले वह अपनी गर्लफ्रेंड को बचाता है तो क्या वह कोई गुनाह कर रहा है? प्रश्न पत्र में दवा कानून, सड़कों, प्रदूषण, धोखाधड़ी, हत्या सहित कई गंभीर सवाल पूछे गए थे।

लेकिन, प्रश्न नंबर 52 में मां और गर्लफ्रेंड सहित ऎसे ही कुछ सवाल, जैसे तलाक के दौरान पति द्वारा पत्नी को नहीं बचाना, दोस्त को जहरीली कॉफी पिलाना आदि पूछे गए थे। विकल्प सी में एक व्यक्ति की कहानी बताई गई थी जिसने आग लगी इमारत में अपनी मां की बजाए अपनी गर्लफ्रेड की जान बचाई थी। उसका मानना था कि अगर वह ऎसा नहीं करता तो गलत करता।

हालांकि, परीक्षा में आग को पानी से बदल दिया गया था। आमतौर पर गर्लफ्रेंड्स अपने प्रेमियों से ऎसे ही सवाल पूछती हैं जिससे बड़ी अजीब स्थिति पैदा हो जाती है। न्याय मंत्रालय ने 24 सितंबर को इस प्रश्न का जवाब प्रकाशित किया था। मंत्रालय का कहना था कि अगर कोई व्यक्ति मां की बजाए गर्लफ्रेड को बचाता है तो वह गुनाह कर रहा है।

चीन में कानून के मुताबिक, गर्लफ्रेड की बजाए बेटे के लिए जरूरी है कि वह पहले अपनी मां को बचाए। इस सवाल को लेकर सोशल मीडिया पर भी बहस छिड़ी। नेटिजन्स का मानना था कि ऎसी स्थिति में मां को छोड़ने वाला बेरहम ही होगा।

एक नेटिजन ने कहा कि ऎसी स्थिति मे मैं अपनी मां को पहले बचाउंगा। कानून को छोड़े तो मेरी मां ने मुझे पालकर बढ़ा किया। साथ ही मेरी गर्लफ्रेंड युवा है जिसका मतलब है कि वह खुद को आग से बचाने में ज्यादा सक्षम है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned