इस परिवार के हर सदस्य की होती हैं अजीब उंगलियां

Amanpreet Kaur

Publish: May, 18 2017 01:33:00 (IST)

Dunia Ajab Gajab
इस परिवार के हर सदस्य की होती हैं अजीब उंगलियां

केरल के अलपुजा मे रहने वाले इस परिवार का नाम है कन्नट्ठु, जिसके 140 सदस्यों की हाथों पैरों की उंगलियां जुड़ी हुई हैं

नई दिल्ली। इस परिवार में पिछले 90 साल से अजीब उंगलियों के साथ लोग पैदा हो रहे हैं। केरल के अलपुजा मे रहने वाले इस परिवार का नाम है कन्नट्ठु, जिसके 140 सदस्यों की हाथों पैरों की उंगलियां जुड़ी हुई हैं। हालांकि इसका इलाज संभव है, लेकिन परिवार के लोग इन्हें अलग नहीं करवाना चाहते।

कवुंकल गांव में रहने वाले इस परिवार की पिछली दो पीढिय़ों के 140 सदस्यों की हाथों और पैरों की उंगलियां साथ जुड़ी हुई हैं। इस परिवार का मानना है कि उनकी जुड़ी हुई उंगलियां ईश्वर का अभिशाप है और वे इससे कोई छेड़छाड़ नहीं करना चाहते।

परिवार के सबसे बुजुर्ग (85 साल) सदस्य का कहना है कि हाल ही मेरे यहां एक बच्चे का जन्म हुआ, उसकी भी उंगुलियां जुड़ी हुई है। वहीं, परिवार के 70 साल की महिला सरसु कन्नथु का कहना है कि इन उंगुलियों की वजह से हमें नॉर्मल लाइफ जीने में कोई समस्या नहीं है और रोजमर्रा का काम भी हम बड़ी ही आसानी से कर लेते हैं।

वहीं, परिवार के एक अन्य सदस्य लक्ष्मी का कहना है कि हमें खाना बनाने, सब्जी काटने और कपड़े धोने में इन उंगुलियों की वजह से कभी कोई दिक्कत नहीं हुई है। परिवार के सदस्यों का मानना है कि भविष्य में भी हमारे बच्चे ऐसी ही उंगुलियों के साथ जन्म लेंगे। लेकिन हम इससे शर्मिंदा नहीं हैं बल्कि गर्व महसूस करते हैं क्योंकि अब हम इसे भगवान का आशीर्वाद मानते हैं।

वहीं, जब लोग इनसे इनकी इस समस्या के बारे में चर्चा करते हैं तो उनका जवाब सुनकर लोग हैरत में पड़ जाते हैं। परिवार के 66 वर्षीय सदस्य केएम भार्गवन का कहना है कि उनके दादाजी का पड़ोस में रहने वाले एक ईसाई परिवार के साथ प्रॉपर्टी को लेकर झगड़ा हुआ था। इसके बाद उस परिवार ने हमारी वाटिका से एक एक पेड़ काट लिया था। जिसके बाद से परिवार में सटी उंगलियों के साथ बच्चे पैदा होते हैं।

परिवार की 65 वर्षीय बुजुर्ग जगदम्मा कहती हैं कि जुड़ी उंगलियों वाले हाथ सांप के फन जैसे लगते हैं। हमारे पुश्तैनी घर में एक वाटिका है जहां हम सांपों की पूजा करते हैं। हम इसे उन्हीं का आशीर्वाद मानते हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned