जापान की इस राजकुमारी ने प्यार के लिए छोड़ा राजसी ठाट बाट, बीच वर्कर से की शादी

Amanpreet Kaur

Publish: May, 19 2017 11:20:00 (IST)

Dunia Ajab Gajab
जापान की इस राजकुमारी ने प्यार के लिए छोड़ा राजसी ठाट बाट, बीच वर्कर से की शादी

जापान की राजकुमारी ने भी यह साबित कर दिया है कि अपने प्यार के लिए इंसान कुछ भी कर सकता है

नई दिल्ली। लोग प्यार के लिए क्या कुछ नहीं करते। कहते हैं प्यार अंधा होता है, लेकिन यह भी सच है कि प्यार में हर जात पात, अमीर गरीब, ऊंच नीच हर तरह के भेद भाव मिटाने की ताकत होती है। जापान की राजकुमारी ने भी यह साबित कर दिया है कि अपने प्यार के लिए इंसान कुछ भी कर सकता है। 25 वर्षीय जापानी प्रिंसेस माको ने प्यार के लिए सभी राजसी ठाट बाट छोड़ दिया।

माको के होने वाले पति का नाम कोमूरो है। कोमूरो टोक्यो की इंटरनेशनल क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट है। माको के साम्राज्य की हाउस होल्ड एजेंसी ने इस बात की पुष्टि की है कि कोमुरो एक 25 वर्षीय नौजवान है। जिसने टोक्यो की तोसुबासी युनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन किया है। साथ ही वो एक लॉ फर्म में काम कर रहा है। वो वायलन बजाता है और खाना भी बना सकता है। इसके साथ ही वो एक बीच में पर्यटन कर्मचारी भी है।

प्रिंसेस माको और की कूमोरो पंाच साल पहले एक कॉमन फ्रेंड के जरिए इंटरनेशनल क्रिश्चियन यूनिवर्सिटी की एक पार्टी में मिले थे। बाद में दोनों में प्यार हुआ और दोनों ने शादी करने का फैसला किया। खबरें हैं कि ये दोनों चर्च में शादी भी कर चुके हैं। कहा जा रहा है कि शादी से पहले ही चर्च के पादरी ने उनको बता दिया था कि इस शादी के बाद वो राजकुमारी नहीं रहेंगी और केवल एक आम इंसान हो जाएंगी और उन्हें साधारण जीवन जीना पड़ेगा। उन्होंने यह सब स्वीकार कर लिया।

माको अपने पति को अपने परिवार से भी मिलवा चुकी हैं और उनके परिवार को भी इससे कोई एतराज नहीं है। शादी की तारीक फिक्स होते ही दोनों की पूरे रीति रिवाज से शादी करवाई जाएगी। माको परिवार की पहली ऐसी लड़की है, जिसने शाही परिवार से बाहर निकलकर किसी यूनिवर्सिटी में दाखिला लेकर पढ़ाई की। वर्तमान में माको यूनीवर्सिटी ऑफ टोक्‍यो म्यूजियम में बतौर रिसर्चर काम कर रही हैं। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि किसी राजकुमारी ने अपने प्यार के लिए अपना राजसी पद छोड़ा है।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned